Connect with us
Image: Jignesh mewani may protest in haldwani

उत्तराखंड की राजनीति में भूचाल, जिग्नेश मेवाणी कर सकते हैं हुंकार रैली !

उत्तराखंड की राजनीति में भूचाल, जिग्नेश मेवाणी कर सकते हैं हुंकार रैली !

गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवाणी को लेकर नई बातें सामने आ रही हैं। अपुष्ट खबरे बता रही हैं कि गुजरात की राजनीति में वड़गाम से हाल ही में विधायक बनकर उभरे दलित नेता जिग्नेश अब उत्तराखंड जा सकते हैं। हाल ही में उत्तराखंड में बीजेपी के जनता दर्शन कार्यक्रम के दौरान एक शख्स प्रकाश पांडे ने जहर खा लिया था। इसके बाद प्रकाश की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। जिग्नेश इसी बात को लेकर अब उत्तराखंड में प्रदर्शन कर सकते हैं। प्रकाश पांडे की मौत के बाद खबर है कि कई युवा नेता उत्तराखंड की राजनीति में भूचाल ला सकते हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर लगातार एक मैसेज वायरल किया जा रहा है। इस मैसेज में बताया जा रहा है कि जिग्नेश उत्तराखंड में आकर प्रदर्शन कर सकते हैं। खबर तो ये भी है कि गुजरात विधायक जिग्नेश के साथ साथ वामपंथी छात्र नेता शेहला राशिद भी उत्तराखंड के हल्द्वानी जा सकते हैं।

यह भी पढें - उत्तराखण्ड आन्दोलन से मिला राज्य ... क्या "गैरसैण राजधानी" आन्दोलन हो रहा जरूरी ?
यह भी पढें - Video: उत्तराखंड में दर्दनाक हत्या, मां ने बेटे के साथ मिलकर पति को मार डाला, घर में दफनाया !
एक वेबसाइट में बताया गया है कि जिग्नेश और शेहला राशिद हल्द्वानी में प्रकाश पांडे के घर जा सकते हैं और बीजेपी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं। वैसे जिग्नेश ने हाल ही में दिल्ली में एक रैली को संबोधित किया था। पहले इस रैली के लिए परमीशन नहीं दी गई थी। हालांकि बाद में दोनों पक्षों के बीच सहमति बन गई थी। दिल्ली में जिग्नेश की रैली में सुरक्षा बलों की भी मौजूदगी थी। अब सोशल मीडिया पर जिग्नेश के देहरादून आने की चर्चाएं हैं। खबर ये भी है कि जिग्नेश और शेहला के आने की भनक लगते ही उत्तराखंड पुलिस भी हरकत में आ गई है। बताया जा रहा है कि पुलिस मुख्यालय की ओर से सभी जिलों के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है। गैर राज्यों से लगती सीमाओं पर नाकेबंदी करने और चेकिंग करने के भी निर्देश दे दिए गए हैं। दिल्ली में जिग्नेश मेवाणी ने देश के प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा था।

यह भी पढें - उत्तराखंड में हाई अलर्ट, सुरक्षा एजेंसियों ने किया आतंकियों के खौफनाक प्लान का खुलासा
यह भी पढें - उत्तराखंड के पौड़ी में हंगामा, हाथ में जहर लेकर छत पर चढ़ी महिलाएं, प्रशासन में हड़कंप
जिग्नेश ने कहा था कि युवा हुंकार रैली को अनुमति नहीं देना ही देश के प्रधानमंत्री मोदी का गुजरात मॉडल है। इसके साथ ही मेवाणी ने इस रैली में कहा था कि मोदी सरकार देश के लोकतंत्र और संविधान के लिए ख़तरा है। जिग्‍नेश एक दलित नेता हैं और एक वकील भी हैं। हाल ही में वो दलित आंदोलन का चेहरा बनकर उभरे हैं। जिग्‍नेश खबरों में तब आए थे जब उन्‍होंने उना की घटना के बाद कहा था कि अब दलित समाज के लोग मरे हुए पशुओं का चमड़ा निकालना और मैला ढोना जैसा काम नहीं करेंगे। जिग्‍नेश अहमदाबाद के दलित बहुल इलाके में रहते हैं। एक वेबसाइट में खबर छापी गई है कि जिग्नेश के उत्तराखंड में आने की खबर के चलते पीएचक्यू ने उनकी फोटो के साथ सभी जिलों को चेकिंग करने का निर्देश जारी किया है। एयरपोर्ट से लेकर हाइवे, रेलवे और बस स्टेशनों पर फोर्स लगाकर चेकिंग की जा रही है। देखना है कि आगे क्या होता है।

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड
वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा
Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top