Connect with us
Uttarakhand Govt Coronavirus Advisory
Image: Cm trivendra singh rawat announcement from dehradun

उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार का एक साल, पलायन मिटाने और रोजगार के लिए बड़ी घोषणाएं

उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार का एक साल, पलायन मिटाने और रोजगार के लिए बड़ी घोषणाएं

उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार का एक साल पूरा हो गया है। इस मौके पर देहरादून के परेड ग्राउंड में एक भव्य कार्यक्रम का आय़ोजन किया गया। पहले रंगारंग कार्यक्रमों और लोकगीतों के जरिए प्रोग्राम की शुरुआत की गई। इस मौके पर सांसद अजय टम्टा, भगत सिंह कोश्यारी, माला राजलक्ष्मी शाह, भुवन चंद्र खंडूरी समेत तमाम बड़ा मंत्री, बीजेपी कार्यकर्ता और प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्रों से आए लोग भी मौजूद थे। सीएम ने नए वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ‘ये साल राज्य के लिए समृद्धि वाला रहे, ये ही शुभकामना है।’ सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक बार फिर से कहा कि राज्य को हर हाल में भ्रष्टाचार से मुक्त कर के दम लेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में संस्थागत भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा है। सीएम त्रिवेंद्र ने कहा कि ये राज्य के सबसे बड़े घोटाले में अब तक 20 लोग गिरफ्तार हो गए हैं।

यह भी पढें - वीर माधो सिंह तकनीकी विवि के नाम से जानी जाएगी उत्तराखण्ड की ये यूनिवर्सिटी
NH 74 घोटाले को लेकर उन्होंने कहा कि उत्तराखंड पुलिस अब तक इस केस में 20 लोगों को जेल भेज चुकी है। उन्होंने कहा कि अपराधों पर राज्य में अंकुश लगाया गया। सीएम ने कहा कि उत्तराखंड में 15 दिन के भीतर किडनी कांड का खुलासा किया गया और इसके लिए भी उत्तराखंड पुलिस बधाई की पात्र है। सीएम ने कहा कि किसानों के लिए सरकार काम कर रही है। किसानों को 2 फीसदी की ब्याज दर पर ऋण दिया गया है और सवा लाख से ज्यादा किसानों को 600 करोड़ रुपये तक की धनराशि 2 फीसदी की ब्जाय दर पर दी गई है। उन्होंने चमोली के घेस गांव का उदाहरण देते हुए कहा कि मटर की खेती के लिए किसानों को प्रोत्साहित किया गया, सरकार की तरफ से मदद की गई। इस साल घेस गांव के किसानों ने 62 लाख रुपये के आसपास मटर की खेती की।

यह भी पढें - त्रिवेन्द्र सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने पर परेड ग्राउंड, देहरादून में चल रहे कार्यक्रम का लाइव प्रसारण
किसानों को सीधा फायदा मिल रहा है। उन्होंने कहा कि सगंध खेती के क्लस्टर शुरू किए गए। जिन खेतों में कभी कुछ नहीं हो रहा था, आज वहां हरे भरे खेत हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में जो खाली खेत पड़े हैं, उन्हें लोग सरकार को किराए पर देने के लिए तैयार हैं और किसान इसके जरिए दोगुनी आय हासिल करेगा। सीएम ने सबसे बड़ी बात ये बताई कि 15 अप्रैल को पलायन आयोग की पहली रिपोर्ट सरकार के सामने होगी। इसके जरिए अध्ययन किया जाएगा कि पलायन को किस तरह से रोका जाए। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के 13 जिलों में मसूरी और नैनीताल की तरह टूरिस्ट डेस्टिनेशन तैयार होंगी, इससे पर्यटन और भी ज्यादा बढ़ेगा। केंद्र सरकार द्वारा लागू की गई उड़ान, ऑल वेदर रोड और चार धाम रेलवे नेटवर्क को उन्होंने देवभूमि के लिए काफी फायदेमंद बताया।

यह भी पढें - त्रिवेंद्र सरकार का बड़ा फैसला, उत्तराखंड में धर्म परिवर्तन पर गैर जमानती वांरट, 5 साल की कैद
सीएम ने कहा कि पौड़ी, गैरसैंण, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़ जैसे जिलों में झील तैयार की जा रही हैं, जिससे पानी की कमी दूर होगी। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड अब 100 फीसदी ओडीएफ यानी खुले में शौच से मुक्त हो गया है। सीएम ने कहा कि उत्तराखंड बैलून टेक्नोलॉजी से इंटरनेट और संचार से कनेक्ट होने वाला पहला राज्य बनेगा। आईआईटी मुंबई के छात्रों द्वारा इस तकनीकि को तैयार किया गया है। सीएम ने कहा कि सीमाओं पर तैनात जवानों वो हमेशा हौसला बढ़ाते रहते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा पूर्व सैनिकों के आश्रितों को पूरी मदद दी जा रही है। द्वितीय विश्व युद्ध के आश्रितों को 4 हजार की जगह अब 8 हजार रुपये पेंशन दी जा रही है। शहीदों के परिवार से एक व्यक्ति को सरकार द्वार रोजगार दिया जाएगा, इसके आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की महिलाओं और बेटियों के लिए सरकार हर तरह से सहयोग दे रही है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : IPS अधिकारी के रिटायर्मेंट कार्यक्रम में कांस्टेबल को देवता आ गया
वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड
वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top