Connect with us
Image: Villagers get relief from killing man eating Leopard

रुद्रप्रयाग का नरभक्षी गुलदार ढेर, 4 लोगों को बना चुका था निवाला..देखिए वीडियो

रुद्रप्रयाग जिले में चार लोगों को अपना शिकार बनाने वाला नरभक्षी गुलदार मारा गया...

रुद्रप्रयाग में दहशत का नाम और 4 लोगों को निवाला बनाने वाला आदमखोर गुलदार मारा गया। 45 साल की कल्पेश्वरी समेत चार लोगों को मौत के घाट उतारने वाले गुलदार को शिकारी जॉय हुकिल ने मार गिराया। नरभक्षी के खात्मे के बाद जिले के लोग राहत की सांस ले रहे हैं। उन्होंने शिकारी जॉय हुकिल और वन विभाग की टीम को धन्यवाद भी कहा। गुलदार इससे पूर्व रुद्रप्रयाग जिले के भरदार क्षेत्र में तीन लोगों को निवाला बना चुका है। घटना का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें मारे गए गुलदार को एक गाड़ी में रखे जाने की तस्वीरें दिख रही है। आस-पास लोगों की भीड़ जुटी हुई है। लोगों का शोर सुनकर आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि नरभक्षी के आतंक से यहां के लोग कितने त्रस्त हो चुके थे। नवंबर महीने से लेकर जनवरी की शुरुआत तक नरभक्षी गुलदार चार लोगों को अपना निवाला बना चुका था। ये सिलसिला 6 नवंबर 2019 से शुरु हुआ।

यह भी पढ़ें - ‘पहाड़ का जांबाज बेटा सलामत रहे’..रक्षामंत्री से बात करेंगे CM, जनरल रावत से हुई बात
सबसे पहले गुलदार ने जखोली ब्लॉक के सतनी गांव में रहने वाले 54 वर्षीय बुजुर्ग को मारा। इसके एक दिन बाद यानि 8 नवंबर को उसने जखोली के ही बांसी गांव में रहने वाली 35 वर्षीय महिला को मार दिया। मौतों का ये सिलसिला यहीं नहीं रुका। नरभक्षी ने 6 दिसंबर 2019 को जखोली ब्लॉक के पपडासू गांव में रहने वाली 50 वर्षीय महिला की जान ले ली थी। इसके अगले ही दिन 7 दिसंबर को शिकारी जॉय हुकिल गुलदार को मारने के लिए क्षेत्र में पहुंच गए। उन्होंने गुलदार को गोली भी मारी थी, पर घायल गुलदार बच निकला। उसका कहीं कोई सुराग नहीं लग पाया। गुरुवार को गुलदार ने टिहरी जिले के धारी गांव में रहने वाली 45 वर्षीय कल्पेश्वरी देवी को मार डाला। तब से शिकारी जॉय हुकिल इलाके में डेरा जमाए हुए थे। शुक्रवार को दो शूटर भी गांव में पहुंचे। गांव में गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा भी लगाया। प्रयास में सफलता मिली और अब रुद्रप्रयाग नरभक्षी गुलदार के आतंक से मुक्त हो चुका है।

रुद्रप्रयाग का नरभक्षी गुलदार मारा गया।

4 लोगों को अपना निवाला बना चुका था गुलदार।

Posted by गम्भीर सिंह बिष्ट on Sunday, January 12, 2020

रुद्रप्रयाग का आदमखोर मारा जा चुका है, लेकिन उत्तराखंड में अब भी ऐसे कई इलाके हैं, जहां नरभक्षी गुलदारों का आतंक चरम पर है। इन गांवों के लोग भी आदमखोरों के खात्मे की बाट जोह रहे हैं, ताकि उनके बच्चे बिना डरे स्कूल जा सकें।

related articles
More..
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत
Loading...
Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top