Connect with us
Image: Youth shot himself after killing his mother in dehradun

देहरादून का बेरहम बेटा, मां की हत्या करने के बाद खुद को भी गोली से उड़ाया

जय पंडित चरस और शराब के सेवन का आदी था। जिसके चलते वो डिप्रेशन में रहने लगा। कई जगह इलाज भी चला, लेकिन जय की लत नहीं छूटी। डिप्रेशन के चलते जय ने मंगलवार को अपनी मां की हत्या करने के बाद खुदकुशी कर ली...

देहरादून में बेटे ने मां की हत्या करने के बाद खुद को भी गोली मार ली। दिल दहला देने वाली ये घटना सहसपुर के बेलोवाला में हुई। जहां जय पंडित नाम का युवक अपनी मां सुशीला देवी के साथ रहता था। जय का परिवार मूलरूप से हरियाणा का रहने वाला है। उसे नशे की लत थी। वो चरस और शराब का आदी था। युवक क्षेत्र में हॉस्टल चलाता था। नशे का आदी होने की वजह से वो डिप्रेशन में था। पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें युवक ने लिखा है कि उसका और उसकी मां का अंतिम संस्कार सनातन धर्म के हिसाब से किया जाए। घटना मंगलवार की है। जय के घर उसका दोस्त अंकित आया हुआ था। सुबह जय ने अंकित को ऊपरी मंजिल के कमरे में भेज दिया और बाहर से कुंडी लगा दी। घर के नौकर को भी वहां से जाने को कह दिया। इसके बाद जय ने अंग्रेजी में सुसाइड नोट लिखा। फिर अपनी लाइसेंसी पिस्टल से बेड पर बैठी मां के सिर में पीछे से गोली मार दी। इसके बाद जय ने खुद को भी कनपटी से पिस्टल सटाकर गोली मार ली। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। गोली चलने की आवाज सुनकर लोग मौके पर पहुंचे तो सुशीला देवी बेड पर और जय फर्श पर मृत पड़ा मिला।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड से दुखद खबर..गहरी खाई में गिरी कार, 3 लोगों की मौके पर मौत..1 गंभीर
बताया जा रहा है कि युवक ने डिप्रेशन के चलते वारदात को अंजाम दिया है। नशे की लत छुड़ाने के लिए जय को नशा मुक्ति केंद्र में भेजा गया था। डिप्रेशन का इलाज भी चल रहा था, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। जय के पिता हरियाणा में ट्रांसपोर्ट कमिश्नर थे, साल 2002 में उनकी मौत हो गई थी। जय चार बहनों का इकलौता भाई था। परिवार में किसी तरह की आर्थिक परेशानी नहीं थी, लेकिन नशे और डिप्रेशन के चलते जय ने अपने हाथों परिवार को तबाह कर दिया। जय पंडित की मां सुशीला देवी शिक्षक पद से रिटायर्ड थीं। जय की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी, कई कोशिशों के बावजूद उसकी नशे की लत छूट नहीं पा रही थी। बेलोवाला में जिस जगह पर जय पंडित का मकान, हास्टल, डेयरी, बाग था, वह इलाका सुनसान है और चारों तरफ झाडिय़ों की वजह से गुलदार आने का खतरा बना रहता था। जिसके चलते सुशीला देवी ने लाइसेंसी पिस्टल खरीदी थी, पर आत्मरक्षा के लिए खरीदी गई इसी पिस्टल ने सुशीला और जय की जान ले ली। जय और सुशीला देवी की मौत के बाद बहनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का मनमोहक नजारा देखिये..
वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत
वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top