Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
Image: Coronavirus Uttarakhand:173 jamaati home quarantine uttarakhand police doing good joc

उत्तराखंड: तब्लीगी जमात से लौटे 173 लोग क्वारेंटीन, सूचना छुपाने वाले जमातियों पर मुकदमा

दिल्ली जमात से लौटे लोगों को ट्रेस करने में प्रशासन के पसीने छूट रहे हैं। लोग सही सूचना नहीं दे रहे, ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस (uttarakhand police) अब केस दर्ज कर रही है...

निजामुद्दीन स्थित मरकज में शामिल कई लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। देश के दूसरे राज्यों के साथ-साथ उत्तराखंड भी बड़े खतरे से जूझ रहा है। यहां भी कई लोग जमात में हिस्सा लेकर लौटे हैं, जिनमें से पुलिस द्वारा (uttarakhand police) कई को ट्रेस कर लिया गया है। पर कई लोगों के बारे में अब तक पता नहीं चला है। ये लोग जमात से लौटने की जानकारी छिपा रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक उत्तराखंड में पिछले 28 दिनों में जमात से लौटे 173 लोगों को होम क्वारेंटाइन कर दिया गया है। जो लोग जानकारी छिपा रहे है, उनके खिलाफ भी सख्त एक्शन लिया जा रहा है। ऐसा करना जरूरी भी है, क्योंकि इन लोगों की लापरवाही पूरे प्रदेश पर भारी पड़ेगी। जिन जमातियों ने जमात से लौटने की सूचना छिपाई है, उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। आगे भी पढ़िए इस बारे में पूरी जानकारी

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में दबे पांव घुसने की फिराक में थे 13 जमाती, पुलिस ने किया गिरफ्तार.. देखिए वीडियो
ऊधमसिंहनगर और श्रीनगर गढ़वाल..बताया जा रहा है कि इन जगहों पर जमातियों के खिलाफ केस दर्ज हो चुके हैं। बात करें निजामुद्दीन मकरज की तो यहां भी उत्तराखंड के 34 जमाती थे। 8 लोग कुछ दिन पहले ही लौट आए थे, जिन्हें कल ही क्वारेंटाइन कर दिया था। 26 लोग अभी दिल्ली में ही हैं, उन्हें वहीं क्वारंटाइन किया गया है। एक जनवरी से अब तक उत्तराखंड में 713 जमाती लौटे हैं। जनवरी और फरवरी में आए जमातियों को 14 दिन से ज्यादा हो चुके हैं। पिछले 28 दिन के भीतर यहां 173 जमाती आए। इन्हें होम क्वारंटाइन किया गया है। परिजनों को भी उनसे दूरी बनाए रखने की हिदायत दी गई है। इनमें कोरोना के लक्षण मिलने पर जरूरी कदम उठाए जाएंगे। प्रशासन ने बताया कि कुछ जमाती अपने जमात से लौटने की सूचना छिपा रहे हैं। आगे भी पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड लॉकडाउन: इधर आप घरों में हैं, उधर जंगल से सड़कों पर उतरे ‘गजराज’..देखिए वीडियो
प्रशासन के मुताबिक ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। श्रीनगर में बिजनौर से लौटे जमातियों के खिलाफ पुलिस (uttarakhand police) द्वारा केस दर्ज हुआ है। ऊधमसिंहनगर में भी ऐसे लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया। डीजी अशोक कुमार ने कहा कि जो जमाती बीते 28 दिनों में जमात से लौटे हैं, वो इस बारे में खुद पुलिस को सूचना दें, ताकि उनके स्वास्थ्य की जांच कराई जा सके। जानकारी छिपाने वालों के खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top