उत्तराखंड:संदिग्ध परिस्थितियों में आशा वर्कर की मौत, 20 दिन में दूसरा मामला (Asha worker death under suspicious circumstances in kashipur)
Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
Image: Asha worker death under suspicious circumstances in kashipur

उत्तराखंड:संदिग्ध परिस्थितियों में आशा वर्कर की मौत, 20 दिन में दूसरा मामला

काशीपुर में आशा वर्कर की मौत का ये पहला मामला नहीं है। बीते 9 जून को भी एक 52 वर्षीय आशा वर्कर की अचानक मौत हो गई थी..आगे पढ़िए पूरी खबर

उत्तराखंड के ऊधमसिंहनगर जिले में आशा वर्कर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है। आशा वर्कर को सर्वे का काम सौंपा गया था। सर्वे ड्यूटी के बाद वो जैसे ही घर लौटीं, उनकी हालत बिगड़ने लगी। आशा वर्कर चक्कर खाकर गिर पड़ी। परिजन उन्हें तुरंत अस्पताल लेकर गए, लेकिन उनकी रास्ते में ही मौत हो गई। घटना के बाद से स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मचा है। एहतियात के तौर पर मरने वाली महिला के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। रिपोर्ट देर रात तक आने की उम्मीद है। घटना काशीपुर की है। जहां 51 वर्षीय रजविंदर कौर आशा वर्कर के तौर पर कार्यरत थीं। रजविंदर कौर का परिवार गुलजारपुर के जगतपुर क्षेत्र में रहता है। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - पहाड़ में दो दर्दनाक हादसे, कोच और खिलाड़ियों समेत 10 लोग घायल
रजविंदर को सर्वे का काम सौंपा गया था। सोमवार को वो रोज की तरह सर्वे ड्यूटी पर गईं। दोपहर में जब वो घर पहुंची तो उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। रजविंदर चक्कर खाकर गिर पड़ीं। उनकी हालत देख परिजनों के हाथ-पांव फूल गए। परिजन रजविंदर को तुरंत मुरादाबाद रोड स्थित अस्पताल लेकर गए, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही रजविंदर कौर ने दम तोड़ दिया। आशा वर्कर की मौत की खबर विभागीय अधिकारियों को मिली तो वो सकते में आ गए। मेडिकल टीम को तुरंत मौके पर भेजा गया। टीम ने मृतक का सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। आपको बता दें कि काशीपुर में आशा वर्कर की मौत का ये पहला मामला नहीं है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: पेड़ से लटकी मिली युवक की लाश, हाल ही में दिल्ली से घर लौटा था
बीते 9 जून को भी एक 52 वर्षीय आशा वर्कर की अचानक मौत हो गई थी। आशा वर्कर सरकारी अस्पताल में तैनात थी। वो दुर्गा कॉलोनी में अपने पति और बेटी के साथ रहती थी। आशा वर्कर को शुगर की समस्या थी। पिछले कुछ दिनों से उसे खांसी की शिकायत थी और सांस लेने में दिक्कत भी आ रही थी। हालत बिगड़ने पर आशा वर्कर को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मौत हो गई। महज बीस दिन के भीतर काशीपुर में एक और आशा कार्यकर्ता की मौत का मामला सामने आया है। घटना इसलिए गंभीर है क्योंकि मरने वाली आशा वर्कर की ड्यूटी कोरोना संदिग्धों के सर्वे में लगी थी। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग मृतक की सैंपल रिपोर्ट मिलने का इंतजार कर रहा है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top