रुद्रप्रयाग: दो बेटियों की मौत के बाद ग्रामीणों में आक्रोश..सिस्टम के खिलाफ नारेबाजी (People angry after bhatwarisain accident)
Connect with us
Uttarakhand Govt Corona Awareness
Image: People angry after bhatwarisain accident

रुद्रप्रयाग: दो बेटियों की मौत के बाद ग्रामीणों में आक्रोश..सिस्टम के खिलाफ नारेबाजी

भटवाड़ीसैंण में हुए स्कॉर्पियो हादसे ने आपदा प्रबंधन की तैयारियों की पोल खोल दी। ग्रामीणों ने कहा कि अगर रेस्क्यू ऑपरेशन समय पर शुरू होता तो महिलाओं की जान बचाई जा सकती थी।

रुद्रप्रयाग के भटवाड़ीसैंण के पास हुए स्कॉर्पियो हादसे में दो महिलाओं की दर्दनाक मौत हो गई। रुद्रप्रयाग बाजार से लगभग पांच किमी और तहसील कार्यालय से दो सौ मीटर की दूरी पर हुए इस हादसे में प्रशासन और आपदा प्रबंधन तंत्र की घोर लापरवाही सामने आई है। लोगों ने बताया कि हादसा सुबह दस बजे हुआ, लेकिन रेस्क्यू ऑपरेशन साढ़े 12 बजे शुरू हो पाया। रेस्क्यू ऑपरेशन में हुई देरी ने दो बेटियों की जान ले ली। हादसे में दो महिलाओं की मौत होने से स्थानीय लोगों में आक्रोश है। तल्लानागपुर क्षेत्र के स्थानीय लोगों ने शासन-प्रशासन के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। इसके अलावा जन अधिकार मंच द्वारा एसडीएम के तबादले की मांग की गई। उधर समाजसेवी गंभीर सिंह बिष्ट का कहना है कि ने कहा कि जिस जगह पर हादसा हुआ, वो जगह एसडीएम दफ्तर से थोड़ी ही दूरी पर है, लेकिन घटना के दो घंटे बाद भी रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू नहीं किया जा सका। हादसे में घायल एक महिला को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड रोजगार समाचार: यातायात पुलिस के 312 पदों पर भर्ती..पढ़िए पूरी खबर
सूचना मिलने पर तीन-तीन एंबुलेंस मौके पर पहुंचीं, लेकिन किसी में भी ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं था। जिस वजह से महिला की मौत हो गई। तीन एंबुलेंस के घटनास्थल पर पहुंचने के बाद भी घायल को ऑक्सीजन नहीं मिल पाना बड़े दुर्भाग्य की बात है। रेस्क्यू टीम के पास जो उपकरण होने चाहिए थे, वो नहीं थे। पहाड़ में जब भी कहीं हादसा होता है तो यही स्थिति देखने को मिलती है। प्रशासन की लापरवाही का खामियाजा लोगों को अपनी जान देकर चुकाना पड़ता है। गुस्साए लोगों ने हाईवे पर जाम लगाकर प्रशासन, पुलिस और आपदा प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की। उनका कहना था कि जिला मुख्यालय से पांच किमी की दूरी पर हुए हादसे के प्रति प्रशासनिक अधिकारियों ने जिस तरह का रवैया दिखाया है, वह गैर जिम्मेदाराना है। लोगों ने एसडीएम के तबादले की मांग की है। आपको बता दें कि बुधवार को केदारनाथ हाईवे पर भटवाड़ीसैंण के पास स्कॉर्पियो कार मंदाकिनी नदी में गिर गई थी। इस हादसे में मीनाक्षी सजवाण और अलका असवाल की मौत हो गई। वाहन में सवार अर्जुन सिंह गंभीर रूप से घायल हैं। वहीं वाहन चालक राकेश सिंह हादसे के बाद से लापता है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का मनमोहक नजारा देखिये..
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : IPS अधिकारी के रिटायर्मेंट कार्यक्रम में कांस्टेबल को देवता आ गया

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top