टिहरी बांध झील में डूबने से 9 साल के बच्चे की मौत, 4 बहनों का इकलौता भाई था (9-year-old child drowned in Tehri lake)
Connect with us
Uttarakhand Govt Corona Awareness
Image: 9-year-old child drowned in Tehri lake

टिहरी बांध झील में डूबने से 9 साल के बच्चे की मौत, 4 बहनों का इकलौता भाई था

पिता ने बताया कि चार बेटियों के बाद उनके घर में बेटे की किलकारी गूंजी थी। पूरा परिवार प्रभात पर जान छिड़कता था, लेकिन एक पल में सबकुछ खत्म हो गया। आगे पढ़िए पूरी खबर

एक दुखद खबर उत्तरकाशी जिले से आ रही है। जहां टिहरी बांध की झील में डूबने से 9 साल के एक बच्चे की मौत हो गई। बच्चे की मौत के बाद माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। पिता ने बताया कि चार बेटियों के बाद उनके घर में बेटे की किलकारी गूंजी थी। पूरा परिवार बच्चे पर जान छिड़कता था, लेकिन एक पल में सबकुछ खत्म हो गया। अब वो किस के सहारे जिंदगी काटेंगे। हादसा मंगलवार को सुबह करीब नौ बजे हुआ। चिन्यालीसौड़ के पीपलमंडी के पास एक बच्चा अचानक टिहरी बांध की झील में डूब गया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी खोजबीन की, लेकिन बच्चे का कुछ पता नहीं चला। बाद में एनडीआरएफ को सूचना दी गई। एनडीआरएफ ने 48 घंटे के सर्च ऑपरेशन के बाद बच्चे का शव बरामद किया।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड के मुक्तेश्वर का गौरव..शहर की नौकरी छोड़ गांव लौटा, अब सेब से खेती से लाखों में कमाई
बच्चे की लाश को देखते ही परिजन बिलख-बिलख कर रोने लगे। हादसे में जान गंवाने वाले बच्चे का नाम प्रभात कुमार था। 9 साल का प्रभात बेसिक पाठशाला पीपलमंडी में कक्षा 3 में पढ़ता था। प्रभात के चाचा हरीश कुमार ने बताया कि मंगलवार को वो पानी लेने के लिए टिहरी बांध झील के किनारे जल संस्थान के टूटे पाइप के पास जा रहे थे। इसी दौरान उनका बेटा सार्थक और बड़े भाई प्रमोद कुमार का बेटा प्रभात कुमार भी साथ चलने की जिद करने लगे। वो पानी भर के लौटने लगे तो दोनों बच्चे नहाने की जिद करने लगे। थोड़ी देर बाद उनका बेटा सार्थक रोते हुए घर लौटा और बताया कि प्रभात पैर फिसलने की वजह से झील में डूब गया है। अनहोनी की खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया।

यह भी पढ़ें - गढ़वाल: तेज रफ्तार वाहन ने बाइक को मारी टक्कर..एक युवक की मौत, एक की हालत नाजुक
परिजनों के सूचना देने पर पुलिस और एसडीआरएफ की टीम ने झील में सर्च ऑपरेशन चलाया। 48 घंटे तक चले सर्च ऑपरेशन के बाद कहीं जाकर प्रभात का शव बरामद किया जा सका। प्रभात 4 बेटियों के बाद पैदा हुआ था। उसका परिवार पीपलमंडी में रहता है। बच्चे की मौत के बाद क्षेत्र में मातम पसरा है। ग्रामीणों ने कहा कि झील किनारे सुरक्षा के इंतजाम नहीं हैं, जिस वजह से कई लोग हादसे का शिकार हो चुके हैं। टीएचडीसी को भी इस बारे में पता है, लेकिन इसके बावजूद झील के किनारे सुरक्षा के इंतजाम नहीं किए गए। ग्रामीणों ने झील किनारे तार बाड़ लगाने और बच्चे के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top