उत्तराखंड: घर के पास खेल रहा था घर का इकलौता बच्चा, दर्दनाक हादसे में मौत (4 year-old child dies in Haldwani)
Connect with us
Image: 4 year-old child dies in Haldwani

उत्तराखंड: घर के पास खेल रहा था घर का इकलौता बच्चा, दर्दनाक हादसे में मौत

हल्द्वानी के पश्चिमी खेड़ा गोविंद गांव में बीते रविवार को महज 4 वर्ष का बच्चा नहर की क्षतिग्रस्त दीवार के चलते 6 फीट गहरी नहर में गिर गया और उसकी मृत्यु हो गई।

हल्द्वानी से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। हल्द्वानी के पश्चिमी खेड़ा गोविंद गांव में एक घर का नन्हा चिराग हमेशा-हमेशा के लिए बुझ गया। महज 4 वर्ष का बच्चा जो अपने घर के पास खेल रहा था, नहर की क्षतिग्रस्त दीवार के चलते 6 फीट गहरी नहर में गिर गया और उसकी मृत्यु हो गई। उसका शव तकरीबन 4 किलोमीटर दूर बाघजाला पंचक्की में मिला जिसके बाद नहर को बंद करा के मासूम के शव को बाहर निकाला गया। बता दें कि मृतक के माता-पिता मजदूरी करके अपना घर चलाते हैं। नहर की चोट में आए मासूम अपने माता-पिता की तीन संतानों में इकलौता लड़का था। उसकी मृत्यु के बाद से ही उसके घर में कोहराम मचा हुआ है और परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। चलिए अब आपको विस्तार से इस घटना की जानकारी देते हैं। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड आने के लिए कोई कन्फ्यूजन नहीं, 5 आसान प्वॉइंट में समझिए पूरी गाइडलाइन
हल्द्वानी के पश्चिमी खेड़ा गोविंद गांव के निवासी ललित आर्य अपने परिवार संग रहते हैं। ललित और उसकी पत्नी हंसा मजदूरी करके अपना घर चलाते हैं और अपने बच्चों का पालन-पोषण करते हैं। बीते रविवार को भी दोनों पति- पत्नी मजदूरी करने गए थे। उनका बेटा सागर सुबह घर के पास खेल रहा था कि तभी अचानक घर के आगे टूटी हुई नहर की दीवार के कारण मासूम सागर 6 फीट गहरी नहर के अंदर जा गिरा और डूबने लगा। यह हादसा उस वक्त हुआ जब उसके माता-पिता मजदूरी करने गए थे। उनके वापस आने पर सागर दिखाई नहीं दिया तो परिजनों ने गांव वालों के साथ मिलकर मासूम की तलाश करना शुरू किया। तकरीबन 4 किलोमीटर दूर बाघजाला पंचक्की के पास नहर में सागर का शव अटका हुआ मिला जिसके बाद वहां पर हड़कंप मच गया। ग्रामीणों की सूचना पर गोला बैराज से निकलने वाली नहर के पानी को बंद कराया गया। दोपहर तकरीबन 1 बजे के करीब 6 फीट गहरी नहर में से मृतक सागर के शव को बाहर निकाला गया।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: विधायक और उनकी पत्नी कोरोना पॉजिटिव, कार्यकर्ताओं में हड़कंप
अपने इकलौते बेटे की मृत्यु के बाद से ही परिजनों के बीच में हड़कंप मच गया है और उसके माता-पिता का रो-रो कर बुरा हाल है। बता दें कि नहर की दीवार का क्षतिग्रस्त होना प्रशासन की बड़ी लापरवाही है। पूर्व बीडीसी सदस्य अर्जुन सिंह बिष्ट का कहना है कि वह पिछले 5 साल से नहर की मरम्मत के लिए आवाज उठा रहे हैं और वे कई बार सिंचाई विभाग के अधिकारियों के पास शिकायत भी लेकर जा चुके हैं मगर बजट न होने की बात कहकर हर बार उनकी बात को रफा-दफा कर दिया जाता है। वहीं खेड़ा की प्रधान लीला बिष्ट ने भी बताया कि उन्होंने भी नहर की मरम्मत का मुद्दा उन्होंने उठाया था मगर अधिकारियों द्वारा किसी भी प्रकार की सुनवाई नहीं की गई है। अलग-अलग जगहों पर इस नहर की टूटी दीवार के चलते बीते डेढ़ साल में तीन मासूमों की जान जा चुकी है मगर तब भी सिंचाई विभाग की नींद नहीं टूट रही है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : IPS अधिकारी के रिटायर्मेंट कार्यक्रम में कांस्टेबल को देवता आ गया

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top