देहरादून: आज से टोल प्लाजा पर फास्टैग जरूरी, वरना लगेगी दोगुनी फीस..फ्री पास की भी सुविधा (Fastag required at Lachhiwala toll plaza)
Connect with us
Image: Fastag required at Lachhiwala toll plaza

देहरादून: आज से टोल प्लाजा पर फास्टैग जरूरी, वरना लगेगी दोगुनी फीस..फ्री पास की भी सुविधा

लच्छीवाला टोल प्लाजा पर बिना फास्टैग के आवाजाही करने पर दोगुनी फीस अदा करनी होगी। हालांकि स्थानीय लोगों के लिए निशुल्क पास की सुविधा दी गई है।

अगर आप देहरादून से ऋषिकेश यात्रा हरिद्वार के लिए सफर कर रहे हैं तो आपके लिए जरूरी खबर है। आज से लच्छीवाला टोल प्लाजा पर बिना फास्टैग के आवाजाही करने पर दोगुनी फीस अदा करनी होगी। हालांकि स्थानीय लोगों के लिए राहत की बात यह है कि उन्हें निशुल्क पास की सुविधा दी गई है। डोईवाला परिक्षेत्र के लोगों के लिए आवाजाही निशुल्क होगी। दूसरी तरफ जिन्होंने फास्टैग नहीं लगाया है, उन्हें दोगुना शुल्क देना होगा। यहां आपको फास्टैग सुविधा के बारे में भी जानना चाहिए। फास्टैग की शुरुआत 2016 में हुई थी। यह टोल प्लाजा पर शुल्क का भुगतान इलेक्ट्रॉनिक तरीके से करने की सुविधा प्रदान करता है। फास्टैग को अनिवार्य किए जाने के बाद टोल प्लाजा पर वाहनों को रुकना नहीं पड़ेगा और टोल शुल्क का भुगतान इलेक्ट्रॉनिक तरीके से हो जाएगा। केंद्र सरकार ने टोल प्लाजा पर टोल कलेक्शन को आसान और सुरक्षित बनाने के साथ-साथ टोल पर लगने वाले लंबे जाम से निजात पाने के लिए फास्टैग को अनिवार्य करने का कदम उठाया है। अगर आपने अपनी गाड़ी में अभी तक फास्टैग नहीं लगाया है, या फिर फास्टैग खाते में बैलेंस नहीं है तो संभल जाएं। गाड़ी में फास्टैग लगवा लें, फास्टैग अकाउंट को रिचार्ज करा लें। ऐसा नहीं किया तो टोल प्लाजा से गुजरने पर आपको दोगुना शुल्क जमा करना पड़ेगा।
यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: 4 जिलों में बारिश-बर्फबारी का अलर्ट..3 मार्च से करवट बदलेगा मौसम

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का मनमोहक नजारा देखिये..
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top