गढ़वाल: खेत में काम करने गई महिला को गुलदार ने बनाया निवाला..गांव में दहशत (Leopard attack on woman in Pauri Garhwal)
Connect with us
Image: Leopard attack on woman in Pauri Garhwal

गढ़वाल: खेत में काम करने गई महिला को गुलदार ने बनाया निवाला..गांव में दहशत

उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल से एक बड़ी खबर आ रही है। पौड़ी गढ़वाल के चौबट्टाखल में गुलदार ने 55 साल की एक महिला को अपना निवाला बना दिया।

उत्तराखंड में गुलदारों ने अलग ही दहशत फैलाई हुई है। खासतौर पर पहाड़ी इलाकों में गुलदार लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहे हैं। इस बीच उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल से एक बड़ी खबर आ रही है। पौड़ी गढ़वाल के चौबट्टाखल में गुलदार ने 55 साल की एक महिला को अपना निवाला बना दिया। 55 साल की श्रीमती गोदाम्बरी देवी को गुलदार ने अपना शिकार बनाया। बताया जा रहा है कि गुलदार सुबह 10:00 बजे गांव में घुसा और गोदाम्बरी देवी को अपना निशाना बनाया। ग्रामीणों का कहना है कि गुलदार गांव के आसपास ही घूम रहा है और वह अभी और भी ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है। घटना सुबह 10:00 बजे की बताई जा रही है जब गोदाम्बरी देवी गांव से कुछ दूर अपने खेत में काम कर रही थी। महिला को अकेला पाकर गुलदार ने उस पर हमला कर दिया। गोदाम्बरी देवी का चेहरा गुलदार ने लहूलुहान कर दिया था। गुलदार के हमले के बाद गोदाम्बरी देवी ने हल्ला मचाया तो आसपास के ग्रामीणों ने गुलदार को भगाने की कोशिश भी की। इसके बावजूद गुलदार वहां से नहीं भागा। इस हमले में गोदाम्बरी देवी की मौत हो गई। काफी हो हल्ला करने के बाद गुलदार शव को छोड़कर झाड़ियों की तरफ चला गया। वन विभाग को इस बात की सूचना दे दी गई है। गुलदार के हमले से गांव के लोग काफी आक्रोशित हैं और वह वन विभाग से पिंजरा लगवाने की मांग कर रहे हैं।
यह भी पढ़ें - अभी अभी गढ़वाल से आई दुखद खबर..गदेरे में डूबने से भाई-बहन की मौत

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : उत्तराखंड: 50 लाख कोरोना टीके, रोजगार, सेवा विस्तार, कर्फ्यू
वीडियो : विधानसभा अध्यक्ष पर फूटा पब्लिक का गुस्सा
वीडियो : बिनसर टॉप में बादल फटने से चमोली में तबाही
वीडियो : बाबा रामदेव का सबसे बड़ा पंगा

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top