उत्तराखंड देहरादूनCar buried under debris on Dehradun Mussoorie road

उत्तराखंड से बड़ी खबर: भारी बारिश के बाद देहरादून-मसूरी मार्ग पर मलबे में दबी कार

पहली बारिश में ही कई जगहों पर गदेरों का मलबा सड़क पर फैल गया है। कई जिलों में सड़कें ब्लॉक हैं, जेसीबी की मदद से रास्ता खोलने का काम जारी है।

uttarakhand news rajya sameeksha Vikalp rahit sankalp sep 22
dehradun mussoorie road car debris: Car buried under debris on Dehradun Mussoorie road
Image: Car buried under debris on Dehradun Mussoorie road (Source: Social Media)

देहरादून: मानसून के दस्तक देते ही जगह-जगह से तबाही की तस्वीरें आने लगी हैं।

Car under debris on Dehradun Mussoorie road

लगातार जारी बारिश से कई जिलों में सड़कें बंद हो गई हैं। जेसीबी की मदद से सड़कों को खोलने का काम जारी है। देहरादून में भी देहरादून-मसूरी मार्ग पर एक कार पहाड़ से गिरे मलबे में दब गई। लोक निर्माण विभाग की टीम मौके पर मौजूद है और मलबा हटाने के काम में जुटी है। घटना भट्टा गांव के पास की है, जहां एक कार मलबे की जद में आ गई। इससे कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। दरअसल मसूरी में अवैध निर्माण के कारण कई निर्माणकर्ताओं ने मलबा नाले में डाल रखा है, जिससे बारिश के दौरान मुश्किलें पैदा हो रही हैं। आगे पढ़िए

ये भी पढ़ें:

बारिश के साथ बह रहा मलबा सड़कों तक पहुंचकर सड़कों को ब्लॉक कर रहा है। लोनिवि की टीम मलबा हटाकर रास्ता खुलवाने में जुटी हुई हैं। पहली बारिश में ही कई जगहों पर गदेरों का मलबा सड़क पर फैल गया है। गोपेश्वर के दशोली ब्लाक के 30 से अधिक गांवों को यातायात से जोड़ने वाली लासी-सरतोली सड़क भारी बारिश के दौरान जगह-जगह मलबा आने से बंद हो गई है। प्री मानसून की सक्रियता से 24 घंटे में उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में भारी बारिश होने की संभावना है। साथ ही देहरादून, नैनीताल, चंपावत और पौड़ी में भी भारी बारिश हो सकती है। इसे देखते हुए मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है। यात्रा पर निकलने वाले लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है।