Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
Image: Recruitment in uttarakhand forest department after a long time

उत्तराखंड के 17 सालों में पहली बार, इस विभाग में अलग अलग पदों के लिए भर्तियां शुरू

उत्तराखंड के 17 सालों में पहली बार, इस विभाग में अलग अलग पदों के लिए भर्तियां शुरू

उत्तराखंड को बने हुए 17 साल बीत चुके हैं, लेकिन एक विभाग है, जिसमें भर्तियां नहीं हो रही थी। आखिरकार उस विभाग में भी भर्तियों के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। युवाओं और बेरोजगारों के लिए ये खबर खुशखबरी से कम नहीं है। 17 साल बाद ऐसा पहला मौका आया है जब वन विभाग में सहायक वन संरक्षक यानी एसीएफ के पदों को भरने की तैयारी शुरू की गई है। जंगलों की सुरक्षा आज उत्तराखंड में बड़ा मुद्दा बनता जा रहा है। दंगलों का दोहन हो रहा है और इसके लिए सरकार भी अब एक्शन में दिख रही है। 17 साल बाद जंगल की सुरक्षा से जुड़े महत्वपूर्ण पद यानी एसीएफ के पद पर नियमित भर्ती होगी। पहले आपको ये बता देते हैं कि मौजूदा वक्त में इसका क्य़ा हाल है और कितने पदों पर सरकार भर्ती निकालने जा रही है। मौजूदा वक्त में सहायक वन संरक्षक 32 पदों पर प्रभारी तैनात हैं।

यह भी पढें - सीएम त्रिवेंद्र का राहुल गांधी पर बड़ा प्रहार, इसे कांग्रेसी सह नहीं पा रहे हैं
यह भी पढें - उत्तराखंड के कॉलेजों को सख्त चेतावनी, फीस के नाम पर लूटा तो 10 लाख का जुर्माना
इसके बाद भी पूरे प्रदेश में 6 पद खाली हैं। इसके अलावा खास बात ये है कि मौजूदा वक्त में 90 पदों में 49 पदों पर प्रमोशन से वनाधिकारी पहुंचे हैं। तीन पदों पर उत्तर प्रदेश से आए अधिकारी तैनात हैं। यानी 32 पदों पर प्रभारियों को तैनात किया गया है और अब तक ये काम चलाया जा रहा था। इसके बाद भी 6 पदों पर कोई भी अधिकारी तैनात नहीं है। अब प्रमुख वन संरक्षक मोनिष मल्लिक का कहना है कि 43 पदों पर भर्ती करने की डिमांड लोक सेवा आयोग को भेज दी गई है। शासन के माध्यम से लोक सेवा आयोग को ये डिमांड भेजी गई है। इन पदों पर अधिकारियों के आने से वनों की सुरक्षा और मजबूत हो सकेगी। फिलहाल सरकार प्राथमिकता के तौर पर इस कदम को उठा रही है। इसके बाद जैसे जैसे पदों की संख्या बढ़ती जाएगी, वैसे वैसे ही काम जारी रखा जाएगा और भर्तियां भी की जाएंगी।

यह भी पढें - उत्तराखंड में कौशल विकास ट्रेनिंग सेंटर का आगाज, 1 लाख युवाओं को मिलेगी ट्रेनिंग
यह भी पढें - उत्तराखंड के बेरोजगारों के लिए बड़ा तोहफा, नए साल पर बंपर भर्तियां, इन पदों पर करें आवेदन
लेकिन इतना जरूर है कि 17 साल बाद उत्तराखंड में इन पदों के लिए भर्तियों की शुरुआत कर दी गई है। वन विभाग में सबसे जरूरी पदों में एक एसीएफ का पद होता है। जो रेंजर से लेकर वन रक्षक तक टीम का मैनेजमेंट देखता है। उत्तराखंड राज्य बनने के बाद से वन विभाग में एसीएफ पदों पर सीधी भर्ती से कोई भी अधिकारी तैनात नहीं हुआ है। आपको बता दें कि बीते महीने आईएफएस अधिकारियों के तबादले हुए थे। इनमें कुछ विसंगतियां सामने आई थीं। अपर मुख्य सचिव ने अमर उजाला को दिए बयान में कहा है कि कुछ विसंगति सामने आई हैं, जल्द ही इन्हें दूर कर लिया जाएगा। खैर इतना जरूर है कि 17 सालों में जिन पदों पर सीधी भर्तियां नहीं हुई थी, अब उन पदों को भी भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ऐसे में उत्तराखंड के बेरोजगार युवाओं के लिए ये शुभ संकेत कहा जा सकता है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top