टिहरी हादसा: गाड़ी में ठूंस-ठूंसकर भरे गए थे बच्चे, एक साथ हुआ 9 मासूमों का अंतिम संस्कार (tehri scjool van case update)
Connect with us
Image: tehri scjool van case update

टिहरी हादसा: गाड़ी में ठूंस-ठूंसकर भरे गए थे बच्चे, एक साथ हुआ 9 मासूमों का अंतिम संस्कार

टिहरी के कंगसाली क्षेत्र में दुख और मातम पसरा हुआ है। सवाल ये है कि आखिर ये जानलेवा गलती हुई क्यों ? जानिए कैसे हुई 9 मासूम बच्चों की मौत

मंगलवार का दिन...पहाड़ में एक नई सुबह लेकर आया था। बच्चे खुशी-खुशी घर से स्कूल के लिए निकल रहे थे। कंधे पर बैग टांगे छोटे छोटे कदम स्कूल की तरफ चल रहे थे। बच्चों की मुस्कुराहट से घर आंगन में खुशियां सराबोर थीं लेकिन एक गलती और 9 मासूम अपनी जान से हाथ धो बैठे। खुशी का माहौल अचानक मातम के माहौल में बदल गया। हर किसी के मन में बस यही सवाल है कि आखिर 9 मासूमों ने किसी का क्या बिगाड़ा था, जो उन्हें ये सजा मिली। एक गाड़ी में 20 बच्चे जबरन बैठाये गए थे, जो नाकाबिले बर्दाश्त है। जिस गाड़ी में 10 लोगों की जगह थी, उसी गाड़ी में 20 लोगों को ठूंस-ठूंसकर बिठाया गया..ये कहां का नियम है? अनट्रेंड ड्राइवर की लापरवाही ने एक पल में 9 घरों के चिराग बुझा दिए। क्या पहाड़ में मासूम बच्चों की जान से जबरदस्ती खेला जा रहा है? इस मामले में स्कूल वाहन चालक और उसके पिता के खिलाफ पुलिस ने गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। फरार चल रहे वाहन चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि उसका पिता अभी भी फरार चल रहा है। इस हादसे में 9 स्कूली बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई, 11 बच्चे गंभीर रूप से घायल हैं और घायल बच्चों में से 5 बच्चों की स्थिति अभी भी नाजुक है। बच्चों का ऋषिकेश एम्स में इलाज चल रहा है।

यह भी पढें - उत्तराखंड में सुबह-सुबह भीषण हादसा, खाई में गिरी कार, यमुनोत्री से लौट रहे व्यक्ति की मौत
9 स्कूली छात्रों का एक साथ अंतिम संस्कार हुआ। ये देख हर किसी का कलेजा दर्द से फट पड़ा। टिहरी में हुए दर्दनाक सड़क हादसे के बाद से कंगसाली गांव में मातम पसरा है। बच्चों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। बच्चों के अंतिम संस्कार के वक्त जिला प्रशासन के अधिकारी और ग्रामीण भी मौजूद थे। बच्चों की मांएं रो-रोकर बेसुध हो गई थीं। कंगसाली गांव इस सदमे से अब कभी उबर नहीं पाएगा। आपको बता दें कि मंगलवार को सुबह 7 बजे लंबगांव में स्कूली वैन खाई में गिर गई थी। हादसे में 2 बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 7 बच्चों ने अस्पताल ले जाते वक्त दम तोड़ दिया। 11 बच्चे गंभीर रूप से घायल हैं, जिनमें से 4 की हालत नाजुक बनी हुई है। घायल बच्चों एयरलिफ्ट कर ऋषिकेश के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। राज्य समीक्षा दुख की इस घड़ी में पीड़ित परिवारों के साथ है। ईश्वर उन्हें ये दुख सहन करने की शक्ति दे। हम घायल बच्चों के जल्द स्वस्थ हो जाने की कामना करते हैं। आप भी इन बच्चों की सलामती के लिए दुआ कीजिए।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top