Connect with us
Image: Soldiers death in Srinagar due to landmine

देहरादून: माता-पिता का इकलौटा बेटा देश के लिए शहीद, 10 महीने पहले हुई थी शादी

देश के प्रति अपना फर्ज निभाते हुए प्राण न्योछावर करने वाले शहीद भीम बहादुर पुन को आज अंतिम विदाई दी जाएगी...

उत्तराखंड के एक और लाल ने देश के प्रति अपना फर्ज निभाते हुए प्राण न्योछावर कर दिए। देहरादून के रहने वाले जवान भीम बहादुर पुन बारूदी सुरंग की चपेट मे आने से शहीद हो गए। भीम बहादुर पुन के साथ ही जवान अखिलेश पटेल ने भी अपने प्राणों का बलिदान दे दिया। अखिलेश मध्य प्रदेश के रहने वाले थे। श्रीनगर में नियंत्रण रेखा पर गश्त के दौरान भीम बहादुर और अखिलेश पटेल बारूदी सुरंग की चपेट में आ गए थे। दोनों जवानों की शहादत से देशवासी गमगीन है। उत्तराखंड में भी मातम पसरा है। शहीद जवान भीम बहादुर पुन देहरादून के विजयपुर गोपीवाला अनारवाला गांव के निवासी थे। वो घर के इकलौते बेटे थे। उनका परिवार वर्तमान में हिमाचल के सोलन स्थित सुबाथू में रहता है। 10 महीने पहले ही भीम बहादुर पुन की शादी हुई थी। मिताली से परिणय सूत्र में बंधे भीम बहादुर पुन ने जल्द ही छुट्टी पर घर आने का वायदा किया था लेकिन इससे पहले माता-पिता के इकलौते बेटे ने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। राइफलमैन भीम बहादुर पुन ने बैटल कैजुएलिटी में 6 नवंबर को शहादत पाई। शहीद की बहन निधि ने भाई की शादी के बाद कई सपने सजाए थे।हिमाचल और उत्तराखंड में मातम पसरा है। शहीद के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। शहीद भीम बहादुर पुन का पार्थिव शरीर आज हिमाचल के सुबाथू पहुंचेगा, जहां शहीद को अंतिम विदाई दी जाएगी। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी भीम बहादुर पुन को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि ‘कश्मीर के कुपवाड़ा में हिमस्खलन से मध्यप्रदेश के जवान अखिलेश पटेल व उत्तराखंड निवासी जवान भीम बहादुर पुन के शहीद होने की दुःखद खबर से स्तब्ध हूं। दोनों वीर सपूतों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना करता हूं’।

कश्मीर के कुपवाड़ा में हिमस्खलन से मध्यप्रदेश के जवान अखिलेश पटेल व उत्तराखंड निवासी जवान भीम बहादुर पुन के शहीद होने...

Posted by Trivendra Singh Rawat on Thursday, November 7, 2019

शहीद भीम बहादुर पुन का आज हिमाचल में अंतिम संस्कार किया जाएगा। देहरादून में भी इस वक्त मातम पसरा है। जानकारी के अनुसार राइफलमैन भीम बहादुर पुन और उनके साथी क्यूआरटी टीम के साथ पेट्रोलिंग पर तैनात थे। इसी दौरान बारूदी सुरंग फट गई। हादसे की खबर मिलते ही बचाव टीमें मौके पर पहुंची पर तब तक दोनों जवानों की सांसे थम चुकी थीं। जवानों की शहादत की खबर जैसे ही उनके घर पहुंची वहां कोहराम मच गया। शहीद भीम बहादुर की पार्थिव देह आज सुबाथू पहुंचेगी, जहां सैन्य सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी जाएगी।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड को वॉटर स्पोर्ट्स डेस्टिनेशन बनाने की तैयारी, संचालन के लिए तैयार की जा रही नीति

वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
Loading...
Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top