देवभूमि के बदरीनाथ धाम में ऐसा पहली बार हुआ..सदियों पुरानी परंपरा की तिथि बदली (Coronavirus Uttarakhand:Gadu ghada yatra badrinath to be delayed)
Connect with us
Image: Coronavirus Uttarakhand:Gadu ghada yatra badrinath to be delayed

देवभूमि के बदरीनाथ धाम में ऐसा पहली बार हुआ..सदियों पुरानी परंपरा की तिथि बदली

एक वायरस का दुष्प्रभाव इतनी बुरी तरह फैल गया है कि चार धामों में से एक बदरीनाथ धाम (Badrinath Dham) में इस बार सदियों पुरानी परंपरा बदलने जा रही है। पढ़िए पूरी खबर

बदरीनाथ धाम (Badrinath Dham) ...लाखों करोड़ो हिदुओं की आस्था का केंद्र हैं भगवान बदरी विशाल। हर साल बदरी विशाल के कपाट खुलते वक्त अनगिनत लोगों की भीड़ दिखती थी। कपाट खुलने से पहले गाड़ू घड़ा यात्रा होती थी. गाड़ू घड़ा यात्रा यानी तेल कलश यात्रा...कहा जाता है कि बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने से पहले गाड़ू घड़ा यात्राकी परंपरा सदियों से चली आ रही है। लेकिन इस बार आपको गाड़ू घड़ा यात्रा में न तो वो उत्साह दिखेगा और न ही और रंग। साथ ही ऐसा पहली बार हो रहा है, जब गाड़ू घड़ा यात्रा की तिथि बदली गई हो। जी हां श्री बदरीनाथ गाडू घड़ा तेल कलश यात्रा की तिथि बदल दी गई है। अब 18 अप्रैल की जगह 24 अप्रैल को नरेन्द्र नगर राजदरबार तेल कलश यात्रा (गाड़ू घड़ा यात्रा) बदरीनाथ रवाना होगी। आपको बता दें कि ये यात्रा टिहरी राज दरबार से शुरू होती है लेकिन इस बार राज दरबार नरेन्द्र नगर द्वारा कोरोना महामारी को देखते हुए तिथि में बदलाव किया गया है। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड के इस प्राचीन मंदिर में टूटी 432 साल पुरानी परंपरा, आज तक ऐसा कभी नहीं हुआ था
श्री बदरीनाथ गाडू घड़ा तेल कलश अब 18 अप्रैल की जगह 24 अप्रैल को राज दरबार नरेन्द्र नगर टिहरी गढ़वाल से सादगीपूर्ण रूप से सीधे बदरीनाथ धाम हेतु रवाना होगा। एक बार फिर से आपको बता दें कि पहले यह तिथि 18 अप्रैल निश्चित थी। राज्य समीक्षा की टीम ने इस बारे में चार धाम विकास परिषद के अपाध्यक्ष आचार्य शिव प्रसाद मंमगाई से बात की। उन्होंने बताया कि इस बार गाड़ू घड़ा यात्रा बेहद शांत तरीके से होगी। डिमरी परिवार के चार सदस्य ही गाड़ू घड़ा यात्रा में होंगे। डिमरी केन्द्रीय धार्मिक पंचायत के चार प्रतिनिधि 23 अप्रैल को श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के ऋषिकेश स्थित चंद्रभागा विश्राम गृह पहुंच जायेंगे। 26 अप्रैल को श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर डिम्मर में तेल कलश की पूजा अर्चना होगी। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में मई तक की सारी शादियां कैंसिल, पिछले साल तो रिकॉर्ड ही टूट गया था
नृसिंह मंदिर जोशीमठ, योग-ध्यान बदरी पांडुकेश्वर होते हुए 29 अप्रैल गाडू घड़ा बदरीनाथ (Badrinath Dham) पहुंचेगा। 30 अप्रैल को प्रात: 4 बजकर 30 मिनट पर श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खुलेंगे।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड
वीडियो : IPS अधिकारी के रिटायर्मेंट कार्यक्रम में कांस्टेबल को देवता आ गया
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top