उत्तराखंड: बड़ी तैयारी में त्रिवेंद्र सरकार, रद्द हो सकता है हरीश सरकार का फैसला (Trivendra government will change the order of Harish Rawat government)
Connect with us
Image: Trivendra government will change the order of Harish Rawat government

उत्तराखंड: बड़ी तैयारी में त्रिवेंद्र सरकार, रद्द हो सकता है हरीश सरकार का फैसला

साल 2016 में हरीश रावत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने हर की पैड़ी को एस्केप चैनल घोषित किया था। अब त्रिवेंद्र सरकार इस फैसले को पलटने जा रही है..

मोक्षनगरी हरिद्वार। यहां का हर की पैड़ी क्षेत्र इन दिनों खूब सुर्खियों में है। सुर्खियों की वजह धार्मिक नहीं, बल्कि राजनैतिक है। साल 2016 में हरीश रावत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने हर की पैड़ी को एस्केप चैनल घोषित किया था। इसका मतलब ये है कि यहां बह रही धारा सिर्फ एक नहर है, जो गंगा में अतिरिक्त पानी की निकासी के काम आती है। यानी इसे गंगा का मुख्य भाग नहीं माना गया। अब कांग्रेस सरकार के इस फैसले को मौजूदा बीजेपी सरकार बदलने जा रही है। कांग्रेस सरकार में हुए शासनादेश को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि हर की पैड़ी को एस्केप चैनल बनाने के लिए पिछली कांग्रेस सरकार ने जो शासनादेश जारी किया था, उसे बीजेपी सरकार बदलेगी। इसकी घोषणा हो चुकी है। पिछली सरकार के शासनादेश को जल्द वापस लिया जाएगा। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: मोबाइल से दूर रहकर टॉपर बने ऋषित...प्रदेश में आया पहला स्थान
इस मामले में अब तक क्या-क्या हुआ और एस्केप चैनल का मतलब क्या है। आपको ये भी जरूर जानना चाहिए। साल 2016 में प्रदेश की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने हर की पैड़ी को एस्केप चैनल घोषित किया था। इसका मतलब ये है कि यहां बह रही गंगा की धारा सिर्फ एक नहर है, जो कि गंगा में पानी की निकासी के काम आती है। इसे गंगा का मुख्य भाग नहीं माना गया। कांग्रेस सरकार के इस फैसले से संत समाज में काफी आक्रोश था। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने तक की धमकी दी थी। सालों बाद इस मामले में नया मोड़ तब आया, जब पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अपने इस फैसले पर अफसोस जताया। मंगलवार को हरिद्वार में संतों से मुलाकात करने पहुंचे हरीश रावत ने कहा कि गंगा की धारा को एस्केप चैनल घोषित करना उनकी भावनात्मक भूल थी। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: रिटायर होने का वक्त हो गया है सरकार, पढ़िए इन्द्रेश मैखुरी का ब्लॉग
हरदा ने कहा कि उन्हें अपने फैसले पर अफसोस है। हरीश रावत ने सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने ये कदम कुछ घरों को बचाने के लिए उठाया था। साथ में ये भी जोड़ा कि कांग्रेस की सरकार आने पर फैसले को बदला जाएगा। अब कांग्रेस के वक्त में हुए शासनादेश को मौजूदा त्रिवेंद्र सरकार बदलने जा रही है। बुधवार को सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस मुद्दे पर मीडिया से औपचारिक बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि ये अच्छी बात है कि हरीश रावत अपने फैसले पर पश्चाताप कर रहे हैं। मां गंगा उन्हें माफ करे। एस्केप चैनल के संबंध मे सरकार घोषणा कर चुकी है। इस मुद्दे पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि हर की पैड़ी में आ रही गंगा धारा को एक झटके में नहर कह देना, पिछली सरकार का बहुत बड़ा रहस्य था। हरीश रावत ने जो गलती की है, उसे बीजेपी सुधारेगी।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का मनमोहक नजारा देखिये..
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top