गढ़वाल: 3 साल की बच्ची माही को गुलदार ने बनाया निवाला..जंगल में मिली क्षत-विक्षत लाश (Leopard attacked 3-year-old girl in Pauri Garhwal)
Connect with us
Image: Leopard attacked 3-year-old girl in Pauri Garhwal

गढ़वाल: 3 साल की बच्ची माही को गुलदार ने बनाया निवाला..जंगल में मिली क्षत-विक्षत लाश

3 साल की माही अपनी दादी संग खेत से गांव लौट रही थी। तभी घात लगाए गुलदार ने उस पर हमला कर दिया। गुलदार बच्ची को उठाकर जंगल की तरफ ले गया। आगे पढ़िए पूरी खबर

राज्य सरकार लोगों से पहाड़ों को आबाद करने को कह रही है, लेकिन जहां मासूम ही सुरक्षित न हों, वहां भला कोई क्यों रहना चाहेगा। पर्वतीय इलाकों में नरभक्षी गुलदारों का आतंक कम नहीं हो रहा। जंगल में घास काटने गई महिलाएं हों या फिर घरों के बाहर खेलते बच्चे, कोई भी सुरक्षित नहीं है। गुलदार के हमले की ताजा घटना पौड़ी गढ़वाल में सामने आई। जहां दादी के साथ खेत से घर की तरफ आ रही 3 साल की मासूम को गुलदार उठा ले गया। बाद में बच्ची की लाश झाड़ियों में पड़ी मिली। घटना दुगड्डा नगर पालिका से सटे गांव गोदी बड़ी की है। यहां चंद्रमोहन डबराल अपने परिवार के साथ रहते हैं।परिवार में 3 साल की बेटी माही भी थी। पूरा परिवार माही पर जान छिड़कता था। वो सबकी लाडली थी। शनिवार शाम करीब 7 बजे माही अपनी दादी और अन्य ग्रामीणों के साथ खेत से घर की तरफ आ रही थी। माही अपने साथी बच्चों के साथ खेलते हुए आगे चल रही थी। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तरांखड: राजधानी देहरादून समेत 3 शहरों में दौड़ेगी नियो मेट्रो, जानिए प्रोजेक्ट की खास बातें
इसी दौरान झाड़ियों में घात लगाकर बैठे गुलदार ने माही पर झपट्टा मार दिया और उसे घसीटते हुए झाड़ियों की तरफ ले गया। घटना के बाद ग्रामीणों ने शोर मचाते हुए झाड़ियों की तरफ पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। जिसके बाद गुलदार माही को मौके पर छोड़कर जंगल की तरफ भाग गया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। गुलदार के हमले में माही की मौत हो चुकी थी। गुलदार ने माही के चेहरे और गर्दन पर गहरे घाव कर दिए थे। सूचना मिलने पर लैंसडाउन वन प्रभाग के दुगड्डा रेंज के अधिकारी पूरी टीम के साथ गांव में पहुंचे और घटना की जानकारी जुटाई। बता दें कि यहां 11 मार्च को भी गुलदार ने गांव सरड़ा में एक बच्चे पर हमला किया था। हमले में बच्चा बुरी तरह घायल हो गया था। क्षेत्र मे गुलदार के हमले की बढ़ती घटनाओं से लोग दहशत में हैं। वो शाम होने से पहले ही घरों में कैद हो जाते हैं। बहरहाल वन विभाग की टीम गुलदार की तलाश में जुट गई है। गुलदार को पकड़ने के लिए गांव में पिंजरा भी लगाया जाएगा।

Loading...
Donate Plasma Campaign of Uttarakhand Govt

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : केदारनाथ मंदिर का ये रहस्य आपने नहीं सुना होगा
वीडियो : Uttarakhand में COVID Hospitals के ये हाल हैं
वीडियो : शिव कैलाश के वासी.. केदारनाथ धाम के कपाट खुले

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Uttarakhand CM Teerath Singh Rawat Apeal to Doctors in Uttarakhand

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top