अब भव्य रूप में दिखेगा देवभूमि का कैंची धाम, जानिए प्रोजक्ट की बड़ी बातें (Kainchi dham to renovat soon)
Connect with us
Happy independence day 2021
Image: Kainchi dham to renovat soon

अब भव्य रूप में दिखेगा देवभूमि का कैंची धाम, जानिए प्रोजक्ट की बड़ी बातें

मंदिर के सौंदर्यीकरण के लिए 60 करोड़ रुपये की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की गई है। निर्माण की जिम्मेदारी कुमाऊं मंडल विकास निगम (केएमवीएन) को दी गई है।

उत्तराखंड का प्रसिद्ध कैंची धाम। वो दिव्य और अलौकिक मंदिर जिसने फेसबुक संस्थापक मार्क जुकरबर्ग, स्टीव जॉब्स और जूलिया रॉबर्ट्स जैसी बड़ी हस्तियों को आध्यात्म की राह दिखाई। इन लोगों ने भी माना कि उन्हें जीवन में सफल होने का सूत्र भारत के एक मंदिर में मिला। ये मंदिर बाबा नीम करौली का मशहूर कैंची धाम ही है। खूबसूरत पहाड़ी के बीच स्थित इस मंदिर को अब और दिव्य-भव्य बनाने की कवायद शुरू हो गई है। राज्य सरकार इसे चारधाम की तर्ज पर विकसित करेगी। जिलाधिकारी नैनीताल ने परियोजना तैयार कर शासन को रिपोर्ट भेज दी है। जिस पर जल्द ही काम शुरू हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने खुद इसकी निगरानी की बात कही है। मंदिर के सौंदर्यीकरण के लिए 60 करोड़ रुपये की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की गई है। निर्माण की जिम्मेदारी कुमाऊं मंडल विकास निगम (केएमवीएन) को दी गई है। 60 करोड़ के बजट से मंदिर में क्या-क्या काम होंगे, ये भी बताते हैं।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: दो रोडवेज बसों की जबरदस्त भिड़ंत, कई लोग गंभीर रूप से घायल
कैंची धाम में भव्य ध्यान केंद्र बनाया जाएगा। जो कि दो मंजिला होगा। इसमें सत्संग हॉल बनेगा, जिसकी क्षमता 130 व्यक्तियों की होगी। योगा हॉल के साथ ओपन डेस्क बनाई जाएगी। आधुनिक शौचालय और लिफ्ट की व्यवस्था भी की जाएगी। इसके अलावा आयुर्वेदिक उपचार हॉल का निर्माण किया जाएगा। कैंची धाम में देश-विदेश से श्रद्धालु आते हैं। ऐसे में मंदिर के बाहर जाम लगना लाजिमी है। इस समस्या से निजात पाने के लिए यहां आठ मंजिला पार्किंग कांप्लेक्स बनाया जाएगा। जिसमें छह सौ से ज्यादा गाड़ियां खड़ी हो सकेंगी। धाम के पास 1.3 किलोमीटर का ग्रीन कॉरिडोर बनेगा। इसके अलावा ओपन एयर थिएटर, फूड कोर्ट भी होंगे। शिप्रा नदी के घाटों का सौंदर्यीकरण भी किया जाएगा। कैंची धाम बाबा नीम करौली का साधनास्थल है। श्रद्धालुओं का मानना है कि उनके पास दिव्य शक्तियां थीं। नैनीताल-अल्मोड़ा रोड पर 1400 मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह मंदिर शिप्रा नदी के किनारे बसा हुआ है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : बिनसर टॉप में बादल फटने से चमोली में तबाही
वीडियो : बाबा का भौकाल..वायरल हुआ जबरदस्त वीडियो
वीडियो : केदार डोली यात्रा 2021
वीडियो : वैज्ञानिकों ने दे दी बहुत बड़ी चेतावनी...सावधान उत्तराखंड

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top