Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
Image: Sainik school to open in rudraprayag uttarakhand

रुद्रप्रयाग में खुलेगा उत्तराखंड का दूसरा सैनिक स्कूल…सेना के लिए तैयार होंगे 300 छात्र

जल्द ही रुद्रप्रयाग में उत्तराखंड का दूसरा सैनिक स्कूल खुलने जा रहा है। ऐसा होने पर उत्तराखंड देश का पहला ऐसा प्रदेश बन जाएगा जहां दो सैनिक स्कूल होंगे...

उत्तराखंड समृद्ध सैन्य परंपरा वाला प्रदेश है। सेना को अफसर देना हो या फिर जवान, उत्तराखंड हमेशा आगे रहा है। प्रदेश के सैनिक स्कूल इस गौरवशाली परंपरा को बनाए रखने में अपना अहम योगदान दे रहे हैं। नैनीताल के घोड़ाखाल में एक सैनिक स्कूल का संचालन पहले से हो रहा है। जल्द ही रुद्रप्रयाग के जखोली में भी सैनिक स्कूल अस्तित्व में आ जाएगा। रक्षा मंत्रालय की तरफ से इसकी स्वीकृति मिल चुकी है। सैनिक स्कूल संचालन सोसाइटी को वित्तीय स्वीकृति भी दे दी गई है। सैनिक स्कूलों को सेना का एंट्री गेट कहा जाता है और ये सच भी है। सैनिक स्कूल से पढ़कर निकले छात्र आज सेना के बड़े अफसर हैं। देश सेवा में अपना योगदान दे रहे हैं। देश को चार सेनाध्यक्ष देने का कीर्तिमान भी सैनिक स्कूल के नाम है। सैनिक स्कूल में पढ़े सैकड़ों छात्र सेना में कर्नल-ब्रिगेडियर, एयर फोर्स में विंग कमांडर-ग्रुप कैप्टन और नेवी में कमांडर-रियर एडमिरल रैंक तक गए हैं। जो बच्चे सेना में दिलचस्पी रखते हैं और इसका हिस्सा बनना चाहते हैं, सैनिक स्कूल उनकी पहली पसंद में शुमार है।

यह भी पढें - उत्तराखंड के 7 जिलों में खुलेंगे 9 फायर स्टेशन..फायर सर्विस के पदों पर जल्द होंगी भर्तियां
सेना को अफसर ही नहीं आईएएस और आईपीएस देने के मामले में भी सैनिक स्कूल अव्वल हैं। सैनिक स्कूलों ने देश को 7 आईएएस और आईपीएस दिए हैं। इस वक्त देश के अलग-अलग राज्यों में 31 सैनिक स्कूल चल रहे हैं। उत्तराखंड का घोड़ाखाल सैनिक स्कूल भी इनमें से एक है। साल 2017 तक यहां के 630 कैडेट, एनडीए ज्वाइन कर चुके थे। आईएमए, ओटीए, एयर फोर्स अकेडमी और नेवल अकेडमी में भी यहां के छात्रों का दबदबा रहता है। नेटवर्क 18 की खबर के मुताबिक जल्द ही एक और सैनिक स्कूल रुद्रप्रयाग के जखोली में खुलने वाला है। जिसकी सभी तैयारियां पूरी हो गई हैं। सैनिक स्कूल ने देश को आर्मी चीफ दलबीर सुहाग, दीपक कपूर जैसे अफसर दिए हैं। साथ ही अरुप राहा और पीवी नायक जैसे एयर चीफ भी देश को मिले। सैनिक स्कूलों से आर्मी को 18 लेफ्टिनेंट जनरल, एयर फोर्स को 4 एयर मार्शल और नेवी को 11 वाइस एडमिरल मिले हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड में दुनिया का सबसे मुश्किल रेस्क्यू ऑपरेशन... ITBP के जवानों को सलाम
चलिए अब आपको सैनिक स्कूल में एडमिशन का प्रोसेस बताते हैं। सैनिक स्कूलों के अगले सत्र के लिए सितंबर से फार्म मिलने लगेंगे। सैनिक स्कूल के लिए प्रवेश परीक्षा जनवरी में होगी। छात्र सिर्फ कक्षा 6 और 9 में एडमिशन ले सकते हैं। एंट्रेंस एग्जॉम का रिजल्ट फरवरी में जारी होता है। एडमिशन के लिए छात्र को प्रवेश परीक्षा के साथ ही मेडिकल परीक्षा भी पास करनी होती है। जिन बच्चों का नाम मेरिट लिस्ट में होता है, वो ही एडमिशन ले सकते हैं। उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग के साथ ही यूपी के अमेठी, राजस्थान के अलवर, ओडिशा के संभलपुर और तेलंगाना के वारंगल में नए सैनिक स्कूल खुलने जा रहे हैं। यानि अब ज्यादा से ज्यादा छात्र सैनिक स्कूल में एडमिशन लेकर देश सेवा के लिए पहला कदम बढ़ा सकेंगे। सैनिक स्कूल में एडमिशन की ज्यादा जानकारी आप http://sainikschooladmission.in/ पर जाकर ले सकते हैं।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का मनमोहक नजारा देखिये..
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top