Connect with us
Uttarakhand Govt Coronavirus Advisory
Image: Karnataka justice ravi malimath will become uttarakhand high court new chief justice

उत्तराखंड हाईकोर्ट के नए जस्टिस हो सकते हैं न्यायमूर्ति मलिमथ..उनके बारे में जानिए

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने कर्नाटक हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति रवि विजय कुमार मलिमथ को उत्तराखंड भेजने की सिफारिश की है। वो नैनीताल हाईकोर्ट के नए जस्टिस के तौर पर कार्यभार संभालेंगे...

उत्तराखंड हाईकोर्ट को जल्द ही नए चीफ जस्टिस मिलने वाले हैं। कर्नाटक हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति रवि विजय कुमार मलिमथ उत्तराखंड हाईकोर्ट के नए जज हो सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने न्यायमूर्ति मलिमथ को उत्तराखंड हाईकोर्ट भेजने की सिफारिश की है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि न्यायमूर्ति मलिमथ उत्तराखंड हाईकोर्ट के नए जस्टिस के तौर पर कार्यभार संभालेंगे। 12 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने इस संबंध में कर्नाटक से सिफारिश की थी। जिसमें न्यायमूर्ति मलिमथ को उत्तराखंड भेजने के अलावा कॉलेजियम ने दिल्ली के न्यायमूर्ति डॉ. एस मुरलीधर को हरियाणा हाईकोर्ट और महाराष्ट्र हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति रंजीत वी मोरे को मेघालय हाईकोर्ट भेजने की सिफारिश भी की थी।

चलिए अब आपको न्यायमूर्ति रवि विजयकुमार मलिमथ के बारे में और जानकारी देते हैं। उनका जन्म 25 मई 1962 को हुआ। न्यायमूर्ति रवि विजय कुमार मलिमथ कर्नाटक हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश स्वर्गीय वीएस मलिमथ के पुत्र हैं। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत साल 1987 में की थी। न्यायमूर्ति मलिमथ ने 28 जनवरी 1987 से बंगलौर में अधिवक्ता के रूप में मुख्यत: सांविधानिक, सिविल, क्रिमिनल, लेबर और सर्विस के मामलों की प्रैक्टिस शुरू की थी। 18 फरवरी 2088 को उन्हें कर्नाटक हाईकोर्ट के अतिरिक्त न्यायमूर्ति के तौर पर नियुक्ति मिली। जिसके बाद 17 फरवरी 2010 को वह स्थायी न्यायमूर्ति बने। अब सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने उन्हें उत्तराखंड हाईकोर्ट भेजने की सिफारिश की है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : IPS अधिकारी के रिटायर्मेंट कार्यक्रम में कांस्टेबल को देवता आ गया
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top