Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
Image: 6 new corona positive case found in Uttarakhand 13 may

उत्तराखंड के 5 जिलों में बढ़ी टेंशन, 5 दिन में 12 प्रवासी कोरोना पॉजिटिव..सावधान रहें

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव केस भी तेजी से बढ़ने लगे हैं। बुधवार को उत्तराखंड में एक दिन के भीतर कोरोना के 6 नए केस सामने आए। पिछले 5 दिनों में उत्तराखंड में कोरोना के 12 पॉजिटिव केस मिले हैं...

उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। बाहर से आने वाले प्रवासी अपने साथ कोरोना संक्रमण का खतरा भी ला रहे हैं। उत्तराखंड में पिछले पांच दिन में कुल 12 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गए। ये सभी लोग बाहरी राज्यों से उत्तराखंड पहुंचे थे। देहरादून, उत्तरकाशी, अल्मोड़ा, नैनीताल और उधमसिंह नगर...कमोबेश हर जिले में कोरोना पॉजिटिव बढ़ रहे हैं। बुधवार को उत्तराखंड में एक दिन के भीतर कोरोना के 6 नए केस मिले। इस तरह प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 75 हो गई है। राज्य सरकार के सामने चुनौतियों का पहाड़ खड़ा है। पहाड़ के जो जिले ग्रीन जोन में हैं, वहां भी अब कोरोना के केस मिलने लगे हैं। उत्तरकाशी में एक मरीज में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। अल्मोड़ा जिला भी एक बार फिर कोरोना की जद में है। मसूरी, नैनीताल और रानीखेत जिले में कोरोना संक्रमण के तीन नए मामले मिले हैं। बात करें देहरादून की तो यहां मसूरी की एक महिला समेत डालनवाला और रायपुर के एक-एक व्यक्ति में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। तीनों बाहरी राज्यों से दून आए हैं। इन तीनों मरीजों की रिपोर्ट देर रात आई। बॉर्डर पर चेकिंग के दौरान इनका सैंपल लिया गया था। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - ब्रेकिंग - उत्तराखंड में 3 कोरोनावायरस पॉजिटिव मरीजे मिले...तीनों बाहर से आए थे
देहरादून में दिल्ली से लौटे मां-बेटे की कोरोना सैंपल रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है, दोनों को इलाज के लिए एम्स हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। मसूरी में एक महिला में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद मसूरी पुलिस ने पूरा लंढौर बाजार बंद करवा दिया। रानीखेत में 27 साल के युवक में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। ये युवक सोमवार को गुरुग्राम से लौटा था। इसी तरह नैनीताल जिले में 32 साल का एक मरीज कोरोना संक्रमित है। वो 8 मई को महाराष्ट्र के अमरावती जिले से लौटा था। कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान में रैंडम सैंपलिंग बड़ी मददगार साबित हो रही है। देहरादून में दिल्ली से इलाज करा कर लौटी जिस महिला में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। उसका सैंपल आशारोड़ी चेकपोस्ट पर ही ले लिया गया था। ऐसा ना किया जाता तो महिला आराम से अपने घर चली जाती। कई दिन बाद जब लक्षण दिखते, तब एहतियाती कदम उठाए जाते, लेकिन तब तक संक्रमण की जद में कई लोग आ जाते। डीएम डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि बाहर से आने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई जा रही है। दून में पहले 11 कंटेनमेंट जोन थे। अब यहां ऋषिकेश के 3 कंटेनमेंट जोन को मिलाकर 5 कंटेनमेंट जोन शेष रह गए हैं। हम पूरी एहतियात बरत रहे हैं।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत
वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा
वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top