उत्तराखंड में नकली नोट के बड़े गिरोह का खुलासा, बाजार में फैलाए 1 करोड़ के जाली नोट (Fake note business in Uttarakhand)
Connect with us
Uttarakhand Govt Denghu Awareness Campaign
Image: Fake note business in Uttarakhand

उत्तराखंड में नकली नोट के बड़े गिरोह का खुलासा, बाजार में फैलाए 1 करोड़ के जाली नोट

कहीं आपकी जेब में नकली नोट तो नहीं? दरअसल उत्तराखंड में एक बड़े सिंडिकेट का खुलासा हुआ है, जिसने अब तक शायद 1 करोड़ की नकली करेंसी (Uttarakhand fake note) बाजार मेंं खपा दी है।

उत्तराखंड में पुलिस ने नकली नोट की तस्करी करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने एसओजी की टीम के साथ मिलकर इस काम को अंजाम दिया है। उत्तराखंड के चंपावत जिले के टनकपुर में काफी समय से 3 लोग मिलकर ये नकली नोटों का धंधा करते थे। आरोपी बीते एक साल से नकली करेंसी बनाने का धंधा कर रहे थे। वो नकली करेंसी को आसपास के इलाकों में खपाते थे। अनुमान लगाया जा रहा है कि एक साल के दौरान अभियुक्तों ने एक करोड़ से अधिक के नकली नोट स्थानीय बाजारों में खपा दिए होंगे। इस बारे में जो खुलासे हुए हैं, वो हैरान कर देने वाले हैं। नकली नोट प्रिंट करने का काम ऊधमसिंह नगर जिले के नानकमत्ता कस्बे में लैपटाप और स्कैनर के जरिए किया जा रहा था। आरोपी नकली नोटों को आधे दामों में देते थे। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में नकली नोटों का कारोबार, 4 लाख के जाली नोट और मशीन जब्त
नकली नोटों को आधे दामों में देने की वजह से लोग इनके झांसे में आकर नकली नोट बाजार में खपाने में सहयोग देते थे। आरोपियों की तरफ से जो 100, 200 और 500 के नोट बनाए गए हैं..वो हूबहू हैं।असली नोटों की तरह लगने से आसानी से बाजार में खपाए जा रहे थे। 500 रुपये के नोट की पेपर की क्वालिटी खराब होने के कारण ये लोग शक के दायरे में आ गए थे। शुरुआत में इनसे 4 लाख की नकली करेंसी मिली। अब अंदाजा है कि ये बाजार में 1 करोड़ की नकली करेंसी खपा च़ुके हैं। ये तीन लोग बड़ी ही चतुराई से इन नकली नोटों से भोले-भाले लोगों को ठगते थे। सैंकड़ों मासूम लोगों को चूना लगाने वाला यह गिरोह अब जेल की हवा खा रहा है। पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम ने मनिहार गोठ तिराहे पर पीलीभीत जिले के उमरिया थाना निवासी दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में नकली नोटों का कारोबार, 4 लाख के जाली नोट और मशीन जब्त
दोनों युवकों की पहचान ब्रजकिशोर और रियाज के रूप में हुई है। दोनों आरोपियों के पास से पुलिस ने 4 लाख रुपए के नकली नोट बरामद किए हैं। साथ ही उनके पास से नकली नोट छापने वाले उपकरण भी मिले हैं। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि वो लोग अपने साथी हरदेव के साथ मिलकर नकली नोटों का यह गैर कानूनी धंधा करते थे। तीनों युवक मिलकर नानकमत्ता की जन सुविधा केंद्र और फोटो स्टेट की दुकान पर नोट तैयार करते हैं। पुलिस द्वारा सख्ताई करने पर तीनों आरोपी युवकों ने अपना जुर्म क़बूला। वो नकली नोटों को सितारगंज, काशीपुर और बाजपुर के देहात क्षेत्र में चलाते थे। उससे जो पैसा उनको मिलता था वे उसे आधा-आधा बांट लेते थे।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top