चमोली पुलिस का अलर्ट जारी..अलकनंदा का जलस्तर बढ़ा, नदी किनारे रहने वाले सावधान रहें (Alaknanda river water level rises chamoli police alert)
Connect with us
Image: Alaknanda river water level rises chamoli police alert

चमोली पुलिस का अलर्ट जारी..अलकनंदा का जलस्तर बढ़ा, नदी किनारे रहने वाले सावधान रहें

इस बीच चमोली पुलिस ने अलर्ट जारी करते हुए लिखा है कि अलकनंदा नदी का जलस्तर बढ़ गया है। नदी किनारे निवासरत लोग सावधान रहें

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश का दौर जारी है। इस भारी बारिश के बीच कई जगहों से बादल फटने की खबरें भी आ रही हैं। कल रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी और टिहरी जिले से बादल फटने की खबरें सामने आईं, तो आज चमोली जिले से बादल फटने से तबाही मच गई। चमोली जिले में घाट बाजार के ठीक ऊपर बिनसर पहाड़ी के चिनाडोल नामक तोक में बादल फटने से भारी तबाही मची है। कई आवासीय मकान, दुकानें और वाहन मलबे में दब गए। भूस्खलन होने पर लोग पहले ही अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर चले गए थे। पुलिस और एसडीआरएफ की टीम द्वारा लगातार रेस्क्यू अभियान जारी है। खबर है कि साढ़े पांच बजे तेज बारिश के दौरान बिनसर पहाड़ी की तलहटी में तीन जगहों पर एक साथ बादल फटा, जिससे भारी मात्रा में मलबा घाट बाजार तक आ गया आया। इस बीच चमोली पुलिस ने अलर्ट जारी किया है। अपने ऑफिशियल फेसबुक पेज पर चमोली पुलिस ने लिखा है कि ‘अलकनंदा नदी का जलस्तर बढ़ गया है।नदी किनारे निवासरत लोग अलर्ट रहें’। हमारी भी आपसे अपील है कि अगर आप अलकनंदा नदी के किनारे निवासरत हैं, तो सावधान रहें।

अलकनंदा नदी का जलस्तर बढ़ गया है। नदी किनारे निवासरत सभी लोग अलर्ट रहें। जनपद चमोली पुलिस

Posted by Chamoli Police on Tuesday, May 4, 2021

Loading...
Donate Plasma Campaign of Uttarakhand Govt

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : Uttarakhand में COVID Hospitals के ये हाल हैं
वीडियो : रुद्रप्रयाग के दो जाँबाज..अपने दम पर बचाई 50 लोगों की जान
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Uttarakhand CM Teerath Singh Rawat Apeal to Doctors in Uttarakhand

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top