टिहरी झील में गिरा ट्रक, 3 दोस्त 8 दिन से लापता...अब तलाश में जुटी इंडियन नेवी (Search opration in tehri lake)
Connect with us
Image: Search opration in tehri lake

टिहरी झील में गिरा ट्रक, 3 दोस्त 8 दिन से लापता...अब तलाश में जुटी इंडियन नेवी

3 नवंबर को टिहरी झील में ट्रक समा गया था, अब तक ट्रक में सवार तीन दोस्तों का कोई पता नहीं चला है। अब इंडियन नेवी तलाश में जुट गई है।

पहाड़ में सफर कितना खतरनाक साबित हो सकता है, इसका पता आपको तब ही चल गया होगा जब 3 नवंबर को एक ट्रक टिहरी झील में समा गया था। ट्रक में तीन दोस्त सवार थे और अब तक उन तीनों का कुछ भी पता नहीं चल पाया। 8 दिन बीत गए हैं, पुलिस के बाद SDRF, NDRF हर किसी ने तलाशी अभियान चलाया लेकिन अब तक तीनों का कुछ भी पता नहीं चल पाया। ऐसे में अब इंडियन नेवी तीनों दोस्तों की तलाश में जुट गई है। नेवी की टीम झील में सर्च ऑपरेशन में जुट है। भारत सरकार ने दिल्ली से इंडियन नेवी की टीम को टिहरी भेजा है। बताया जा रहा है कि तीनों युवक ऋषिकेश में राफ्ट एवं टूर व्यवसाय से जुड़े हैं। शनिवार की देर रात को सभी लोग घर से गंगोत्री धाम घूमने के लिए निकले थे। इस दौरान हैरान कर देने वाला हादसा हुआ था।

यह भी पढें - टिहरी झील में गिरा ट्रक, लापता हुए 3 दोस्त..अब तक नहीं मिला सुराग
इस बीच पीपलडाली लंबगांव मोटर मार्ग पर खांड गांव के पर ट्रक अनियंत्रित हो गया। इसके बाद ट्रक टिहरी झील मे गिर गया। ट्रक में सवार तीन लोग तेजुलाल, सुरेश लाल और ट्रक चालक अनिल भंडारी ट्रक सहित झील में गिर गए थे।हादसे में एक व्यक्ति राकेश लाल घायल हो गया था।लापता लोगों की तलाश में पहले एसडीआरएफ जुटी। इसके बाद जल पुलिस के असफल रहने पर एनडीआरएफ ने भी पीपलडाली पहुंचकर सर्च ऑपरेशन शुरु किया अब तक कोई सफलता नहीं मिली तो टीम खाली हाथ लौट गई। अब इंडियन नेवी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। बताया जा रहा है कि मिनी ट्रक पाटा गांव से एक खच्चर लेकर खोला गांव जा रहा था। 3 नवंबर की रात करीब नौ बजे के ट्रक पीपलडाली-रजाखेत मोटर मार्ग पर पीपलडाली पुल से 250 मीटर आगे मोड़ पर अचानक अनियंत्रित होकर टिहरी झील में जा गिरा।

यह भी पढें - पहाड़ में दर्दनाक हादसा..खाई में गिरी कार, एक युवक की मौत, दो गंभीर रूप से घायल
ट्रक में चार लोग सवार थे। लेकिन संयोग से राकेश लाल (44) पुत्र स्व.गेदा लाल निवासी खोला झील किनारे झाडियों के बीच छिटक गया। रात में अंधेरा होने और उसके पास मोबाईल न होने से वह दुर्घटना की सूचना किसी को नहीं दे पाया। रात भर जब परिजनों का उनसे संपर्क नहीं हो पाया तो रविवार सुबह राकेश की पत्नी ने अपने भाई सोबन से उनकी तलाश करने की बात कही। रगड़ा-पिपोला गांव के लोग तलाश करते हुए पीपलडाली की ओर पहुंचे तो वहां उन्हें झील किनारे मिट्टी धंसने व दुर्घटना होने की संभावना दिखाई दी। आठ बजे लोग झील तक पहुंचे तो वहां उन्हें झाडियों के बीच राकेश दलदल में फंसा मिला। उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल ले आए। ट्रक में सवार तेजपाल (25) पुत्र जठू, सुरेश लाल (35) पुत्र भरतू लाल खोला, वाहन चालक अनिल भंडारी (35) पुत्र तेज सिंह निवासी पडिया का पता नहीं चल पाया।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top