Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
Image: Student molestation in haldwani

उत्तराखंड में 12 साल के बच्चे से कुकर्म, सीनियर छात्रों ने दी जान से मारने की धमकी

हैवानियत की हर हद पार हो रही है और उत्तराखंड शर्मसार होता जा रहा है। एक ऐसा वाकया सामने आया है, जिससे हर कोई हैरान है।

मानवीयता और संवेदनाओं की अब इंसानी दिलों में जगह नहीं रह गई? बच्चे क्या पढ़ रहे हैं और क्या कर रहे हैं ? कभी किसी ने इस तरफ ध्यान देने की कोशिश की ? ज्यादा दूर नहीं बल्कि ये उत्तराखंड के हल्द्वानी की बात है। यहां 12 साल के बच्चे को अकेला देखकर सीनियर छात्र हैवान बन गए। जिस छात्र के साथ हैवानियत की गई है, वो सदमे में है। बताया जा रहा है कि 12 साल का वो छात्र सातवीं कक्षा में पढ़ता है और हल्द्वानी में सैन्य परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए एक प्राइवेट संस्थान में आया था। उसे ये जरा सा भी अहसास नहीं था कि हॉस्टल के ही कुछ सीनियर छात्रों की गंदी नज़र उस पर है। पुलिस ने कुकर्म, धमकी और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। आइए अब आपको विस्तार इस घटना के बारे में बताते हैं।

यह भी पढें - Video: पहाड़ में गुलदार की दहशत, एक ही गांव के दो बच्चों की मौत..सड़क पर उतरे लोग
बताया जा रहा है कि पुलिस ने इस केस में हॉस्टल के ही दो छात्रों को हिरासत में ले लिया है। आरोप है कि शिकायत करने पर छात्र को पंखे से लटकाकर जान से मारने की भी धमकी दी गई।
बताया जा रहा है कि पीड़ित छात्र नई दिल्ली के अंबेडकर नगर का रबने वाला है और सैनिक स्कूल में दाखिले के लिए परीक्षा की तैयारी कर रहा था। आरोप है कि शुक्रवार की रात साढ़े दस बजे के करीब हॉस्टल के दो सीनियर छात्रों ने उसे दूध पीने के बहाने कमरे में बुलाया और उसे अपना शिकार बना दिया।
जब छात्र ने इस बात का विरोध किया तो सीनियर छात्रों ने उसे जान से मारने की धमकी तक दे डाली।

यह भी पढें - देहरादून में हैवानियत की सारी हदें पार, बाप और भाइयों ने युवती से किया दुष्कर्म
घटना के बाद बच्चे ने अपने माता-पिता को इस बात की जानकारी दी। बच्चे के माता-पिता हल्द्वानी आए और कोतवाल विक्रम सिंह राठौर को इस बात की जानकारी दी।
इसके बाद कोतवाल विक्रम सिंह राठौर के निर्देश पर पीड़ित बच्चे का मेडिकल मुआयना बेस अस्पताल में कराया गया।
एसएसआई विजय सिंह मेहता ने बताया कि दोनों आरोपी छात्र बालिग हैं। उनके खिलाफ पुलिस ने धारा 377, 506, 5/6 पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।
सवाल ये ही आखिर उत्तराखंड में ये क्या हो रहा है और छात्रों की मानसिकता किस तरफ जा रही है ?

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top