उत्तराखंड दर्शन गीत से अभिभूत है गोपाल बाबू गोस्वामी का परिवार (Ramesh babu goswami on uttarakhand darshan song)
Connect with us
Uttarakhand Govt Corona Awareness
Image: Ramesh babu goswami on uttarakhand darshan song

उत्तराखंड दर्शन गीत से अभिभूत है गोपाल बाबू गोस्वामी का परिवार

उत्तराखंड दर्शन गीत की लॉन्चिंग के बाद स्वर्गीय गोपाल बाबू गोस्वामी के बेटे रमेश बाबू गोस्वामी बेहद खुश हैं। जानिए उनका क्या कहना है।

स्वर्गीय गोपाल बाबू गोस्वामी रचित गीत जय जय हो देवभूमि के ट्रेलर के लॉन्च होने के बाद स्वर्गीय गोपाल बाबू गोस्वामी के बेटे रमेश बाबू गोस्वामी बेहद खुश हैं। उनका कहना है कि जो काम मेरे पिताजी के जीवित रहते नहीं हो पाया उसको मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार और गायक रमेश भट्ट ने पूरा किया है। ये एक अधूरे सपने के पूरा होने जैसा है। ये आज के दौर में ही संभव था कि गीत का फिल्मांकन इस रूप में किया जाए। गीत में जिस तरह का वर्णन मेरे पिताजी स्वर्गीय गोपाल बाबू गोस्वामी जी ने किया था, उसका सजीव चित्रण रमेश भट्ट कर पाए हैं। मेरे पिताजी का यह गीत 80 के दशक में बेहद हिट हुआ था लेकिन तब पहाड़ी गीतों के वीडियो बनाने बेहद मुश्किल थे। आज के तकनीकी युग में इसको साकार कर दिखाया रमेश भट्ट जी ने। मुझको बेहद खुशी है कि भट्ट जी ने इस गीत को मूल रूप से गाया और मूल रूप से उसका चित्रांकन किया। आज यह गीत उत्तराखंड दर्शन के रूप में देखा जा रहा है, जो कि पिताजी के वक्त पर संभव नहीं था। जय जय हो देवभूमि गाकर और इसका फिल्मांकन कर रमेश भट्ट जी ने एक नया आयाम स्थापित किया है। नए दौर के गायकों में यह शिष्टाचार कतई नहीं है कि मूल रूप से गीत को रचने वाले रचनाकार की तरफ से भी अनुमति ली जाए। मैं आभार व्यक्त करना चाहूंगा भट्ट जी का कि उन्होंने इस गीत के लिए मेरी माताजी से अनुमति ली और खुद मुझसे बातचीत की। मैं अभिभूत हूं कि मेरे पिता का यह गीत अब और ज्यादा अजर-अमर होगा। अब इस गीत से हमारी देवभूमि उत्तराखंड का भी भला होगा। यहां धार्मिक और सांस्कृतिक पर्यटन बढ़ेगा। इस गीत का जो फिल्मांकन आज के दौर में हुआ है उससे उत्तराखंड विश्व पटल पर और ज्यादा प्रबल तरीके से उभरेगा। मेरी शुभकामनाएं और हार्दिक बधाई है हर उत्तराखंडी को। हर उत्तराखंडी को यह गीत शेयर करना चाहिए। जय जय हो देवभूमि।
आपका रमेश बाबू गोस्वामी, स्वर्गीय गोपाल बाबू गोस्वामी के पुत्र
अब आप भी गीत को प्रोमो देख लीजिए

मैंने पहली बार अपनी जन्मभूमि उत्तराखंड का गीत गाया है। गीत में विश्व को सम्पूर्ण उत्तराखंड के दर्शन (आध्यात्मिक और सौंदर्य) कराने की इच्छा है। काफी हद तक सफल रहा हूं। आप सबके सहयोग और प्यार से सफलता मिलेगी। पूरा गीत जल्द आप सबके बीच पहुंचाऊंगा। पेश है छोटा सा अंश।

Posted by Ramesh Bhatt on Tuesday, December 10, 2019

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top