उत्तराखंड में गुस्साए हाथी का शिकार बना साधु, पटक-पटक कर दी दर्दनाक मौत (rishikesh elephant killed a sadhu)
Connect with us
Image: rishikesh elephant killed a sadhu

उत्तराखंड में गुस्साए हाथी का शिकार बना साधु, पटक-पटक कर दी दर्दनाक मौत

ऋषिकेश (rishikesh elephant) से एक दुखद खबर सामने आई है। ऋषिकेश में स्थित लक्ष्मणझूला, स्वर्गाश्रम के भूतनाथ मंदिर के पास हाथी ने एक साधु को जान से मार डाला। साथ ही उसने साधु के आवास स्थान को भी तहस-नहस कर दिया।

स्वर्गाश्रम(ऋषिकेश) में स्थित भूतनाथ मंदिर के पास ही एक साधु(रामकृष्ण) झोपड़ी बना कर रहते थे। बताया जा रहा है कि बीती रात को तकरीबन दो बजे एक हाथी (rishikesh elephant) ने अचानक आक्रामक रूप धर लिया और साधु की झोपड़ी पर हमला करदिया। साधु किसी तरह अपनी जान बचाने की चेष्टा करते हुए तुरंत ही झोपड़ी से बाहर की ओर भागे मगर हाथी ने उनको अपनी सूंड में लपेट लिया और कई बार उनको पटका जिससे साधु की मौके पर ही मृत्यु हो गयी। हाथी का गुस्सा तब भी कम न हुआ तो उसने मृत साधु की कुटिया के साथ साथ आसपास के खाली भूखंडों को भी तहस-नहस करदिया। साधु को मारने के बाद भी हिंसक हाथी सुबह तक उनके शव के आसपास ही घूमता रहा। सुबह जब लोगों ने ये दर्दनाक मंज़र देखा तो उन्होंने इसकी सूचना तुरन्त वन विभाग को दे दी। वन विभाग से आये वनकर्मियों ने मौके पर पहुँच कर किसी तरह हिंसक हाथी को जंगल की तरफ़ खदेड़ा।

यह भी पढ़ें - आज उत्तराखंड के 7 जिलों में भारी बारिश और बर्फबारी का अलर्ट, सावधान रहें!
ऐसा पहली बार नहीं है कि हाथी (rishikesh elephant) ने आक्रामक रुप धारण कर लिया हो। इससे पहले भी हाथी ने चौरासी कुटी तहस-नहस कर रखी है, इसी के साथ ही आसपास के आबादी वाले क्षेत्रों में भी खासा नुकसान पहुंचाया है। शिवरात्रि के अवसर पर लगे नीलकंठ महादेव में लगे हुए मेले के अंदर भी हाथी ने बहुत उत्पात मचाया। कई बार वे सड़कों के बीच आकर खड़े हो जाते हैं जिससे कि आने-जाने वाले लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। लेकिन कल रात को हाथी ने हिंसात्मक रूप धारण करलिया और निर्दोष साधु को बेरहमी से पटक-पटक कर मार डाला। इस घटना के पश्चात इस क्षेत्र में ख़तरा और भी बढ़ गया है। लोगों के बीच जंगली जानवरों का डर और अधिक बैठ गया है। अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव के दौरान ऐसी जानलेवा घटना का घटित होना लोगों की सुरक्षा के ऊपर कुछ बड़े सवाल उठाता है। अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव में विभिन्न देशों से तकरीबन 900 से अधिक योग साधक पहुंचे हैं। जिस क्षेत्र में हाथी ने हाहाकार मचा रखा है उस क्षेत्र में विदेशी पर्यटक दिन-रात घूमते नज़र आते हैं। ऐसे हालातों में उनकी सुरक्षा की एक बड़ी ज़िम्मेदारी जाती है। ऐसे में संतोषजनक बात ये है कि वन विभाग के द्वारा इस क्षेत्र सिक्युरिटी बढ़ाने और हाथी के ऊपर एक पैनी नज़र रखने का दावा किया जा रहा है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : यहां जीवित हो उठता है मृत व्यक्ति - लाखामंडल उत्तराखंड

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top