उत्तराखंड पौड़ी गढ़वालCoronavirus Uttarakhand:Hans foundation initiative for uttarakhand and country

देवभूमि को कोरोना से बचाने के लिए हंस फाउंडेशन की मुहिम, शुरू हुआ अनोखा अभियान

कोरोना वायरस के चलते फंसे लोगों के लिए हंस फाउंडेशन ने शुरू किया ऑपरेशन नमस्ते अभियान..हर जरूरतमंद व्यक्ति तक पहुँचे खाद्य सामग्री। पढ़िए पूरी खबर

uttarakhand news rajya sameeksha Vikalp rahit sankalp sep 22
Coronavirus Uttarakhand: Coronavirus Uttarakhand:Hans foundation initiative for uttarakhand and country
Image: Coronavirus Uttarakhand:Hans foundation initiative for uttarakhand and country (Source: Social Media)

पौड़ी गढ़वाल: कोरोना वायरस के चलते देश में लोगों जहां के तहां फंस गए है। लोगों को खाना और अन्य जरुरी सामान पहुंचाने के लिए सरकार और जिला प्रशासन प्रयासरत है। वहीं, आमलोग भी किसी न किसी रुप में फंसे लोगों की मदद कर रहे हैं। इस कड़ी में समाज सेवा के लिए द हंस फाउंडेशन ने माता मंगला एवं भोले जी महाराज के निर्देशों पर कोरोना वायरस के चलते फंसे देश के नागरिकों को सहयोग के लिए ऑपरेशन नमस्ते अभियान की शुरुआत की है। इस अभियान के माध्यम से देश में गरीब और निर्धन लोगों को उनके घरों तक सोशल नेटवर्किंग द्वारा खाद्य आपूर्ति की जा रही है। उत्तराखंड में दुर्गम क्षेत्रों में बसे गाँवों तक हंस फाउंडेशन की टीमों द्वारा डिजिटल इंडिया के तहत निरंतर मदद पहुँचाई जा रही है। हंस फाउंडेशन कोरोना वायरस से निपटने के लिए उत्तराखंड में स्वास्थ्य के क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका रहा है। उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में सतपुली में स्थित 'हंस फाउंडेशन जरनल अस्पताल' के साथ-साथ हंस फाउंडेशन द्वारा वित्तपोषित,उत्तराखंड के 06 अस्पतालों में कोरोना वायरस से लड़ने की व्यवस्था की जा रही है। आगे भी पढ़िए नमस्ते अभियान के बारे में

ये भी पढ़ें:

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड से दुखद खबर, सेना के जवान में कोरोना वायरस की पुष्टि..आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती
ऑपरेशन नमस्ते अभियान के बारे में समाजसेवी माता मंगला ने अपने संदेश में कहा है कि ‘हम सबसे पहले तो आप सभी से निवेदन करते है आप सब इस संकट के समय जहाँ हैं, वहाँ रहकर अपना और अपने परिवार का ख्याल रखें। साथ ही लॉकडाउन के नियमों का पालन करें और अपने घर से बाहर न निकलें’। माता मंगला ने अपने संदेश में कहा कि ‘ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निवेदन को मानिए जिसमें प्रधानमंत्री ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान आप सोशल डिस्टेंसिंग जरूर बढ़ाएं लेकिन इस दौरान आप इमोशनल डिस्टेंस घटाएं,इसका आप सभी पालन करें। इस संकट के समय में हंस फाउंडेशन देश के साथ खड़ा हैं और हम डिजिटल इंडिया के माध्यम से एवं सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए देश में जरूरतमंद लोगों तक खाद्य सामग्री पहुंचाने का भरसक प्रयास कर रहे है। मुंबई कौथिग फाउंडेशन के माध्यम से हम मुंबई में होटलों में काम करने वाले उत्तराखंड के लोगों और परिवारों को मदद पहुँचा रहे हैं। साथ ही उत्तर प्रदेश एवं दिल्ली के विभिन्न स्थानो में जरूरतमंद लोगों को सहयोग प्रदान किया जा रहा है।
आपको बता दें कि हंस फाउंडेशन के तत्वावधान में चलाए जा रहे आपरेशन नमस्ते के जरिए उन लोगों तक डिजिटल इंडिया के माध्यम से खाद्य आपूर्ति की जा रही हैं। जो आज के समय में बहुत जरूरतमंद है।