उत्तराखंड में रिश्तों का कत्ल..दो भाइयों ने अपनी ही बहन के पति को मार डाला (haridwar two brother killed there brother in law)
Connect with us
Image: haridwar two brother killed there brother in law

उत्तराखंड में रिश्तों का कत्ल..दो भाइयों ने अपनी ही बहन के पति को मार डाला

पारिवारिक रिश्तों के बीच एक छोटी सी आपसी रंजिश ने इस कदर रूप लिया कि दो सालों ने अपनी सगी बहन के पति का गला दबा कर उसे मौत के घाट उतार दिया।

हरिद्वार से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आ रही है। दो सालों ने मिलकर अपने सगे बहनोई की हत्या कर दी। दोनों ने उसकी हत्या को अंजाम देने से पहले उसे शराब पिलाने के बहाने घर के बाहर बुलाया और बाइक में बिठा कर जंगल की ओर ले गए। वहां उन्होंने अपने बहनोई का गला रेंत कर हत्या करदी। उन्होंने अपने बहनोई का सिम तोड़कर तालाब में फेंक दिया। मृतक सुदर्शन अफगानपुर गांव का निवासी था और कस्बे में वर्कशॉप चलाता था। सुदर्शन की हत्या उसी के दो सालों रंजिश के तहत की। पुलिस ने हत्या के आरोप में सुदर्शन के दोनों साले मोतीलाल और मुरारी को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में मुरारी ने अपने जीजा की हत्या का जुर्म कबूला। हत्या का कारण जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे। चलिए आपको बताते हैं कि आखिर क्यों दोनों सालों ने अपने इकलौती बहन के पति को मौत के घाट उतारा। हत्यारा मोतीलाल दिल्ली में नौकरी करता था।तकरीबन साल भर पहले उसने अपनी बेटी की शादी मक्खनपुर के एक शानदार होटल में की। शादी के दौरान उसके बहनोई सुखदर्शन ने अपने साले के ऊपर तंज कसा। उसने मोतीलाल को कहा था कि इतनी शान-शौकत से शादी करने की उसकी औकात नहीं है। अपने जीजा की यह बात मोतीलाल को बुरी तरह चुभ गई। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: मासूम आयुष की लाश पड़ी रही..3 दिन पिता करता रहा इंतजार..रिपोर्ट नहीं आई
इसके बाद से ही वह अपने जीजा के लिए मन में रंजिश रखने लगा और उसको मारने का प्लान बनाने लगा। आखिरकार लॉकडाउन में मोतीलाल को मौका लगा तो उसने अपने जीजा की हत्या को अंजाम दिया। हत्या में उसका सगा भाई मुरारी भी शामिल था। बता दें कि शनिवार को तकरीबन 7 बजे मोतीलाल ने अपने जीजा सुदर्शन को शराब पीने के लिए घर से बाहर बुलाया। सुदर्शन उनकी बातों में आ गया और उनके साथ चला गया। तीनों लोग जंगल के अंदर गए और शराब पी। वहां पर सुदर्शन और मोतीलाल के बीच फिर से तंज कसने को लेकर विवाद हुआ और मोतीलाल और मुरारी ने मिलकर सुखदर्शन की गला दबा कर हत्या कर दी और फरार हो गए। आरोपियों ने सुखदर्शन के मोबाइल का सिम कार्ड भी तोड़ कर फेंक दिया और मोबाईल भी तालाब में फेंक दिया था। रविवार की सुबह ग्रामीणों को सुखदर्शन का शव दिखा जिसके बाद पुलिस और परिजनों को सूचित किया गया। पुलिस ने हत्या के मामले मे दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद से ही गांव में हड़कंप मचा हुआ है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top