उत्तराखंड में भारत का सबसे लंबा सिंगल लेन सस्पेंशन ब्रिज तैयार, 3 लाख की आबादी को फायदा (Dobra Chanthi Single Lane Suspension Bridge)
Connect with us
Image: Dobra Chanthi Single Lane Suspension Bridge

उत्तराखंड में भारत का सबसे लंबा सिंगल लेन सस्पेंशन ब्रिज तैयार, 3 लाख की आबादी को फायदा

इस वक्त टिहरी से प्रतापनगर जाने के लिए पांच से छह घंटे लगते हैं। इस पुल के बन जाने के बाद टिहरी से प्रतापनगर का सफर डेढ़ घंटे में पूरा होगा। बात चाहे सुरक्षा की हो या फिर सुंदरता की...ये पुल हर पैमाने पर खरा उतरेगा।

कोरोना काल की चुनौतियों के बीच टिहरी-उत्तरकाशी के लोगों की एक बड़ी समस्या हल होने वाली है। टिहरी बांध पर बना देश का सबसे लंबा सिंगल लेन सस्पेंशन ब्रिज डोबरा-चांठी पुल बनकर तैयार है। टिहरी और उत्तरकाशी के लोग इस पुल के बनने का सालों से इंतजार कर रहे थे, अब ये इंतजार खत्म हो गया है। बहुत जल्द ये पुल प्रतापनगर के लोगों को समर्पित कर दिया जाएगा। 3 लाख की आबादी को इस पुल का फायदा मिलेगा। खूबसूरत डोबरा-चांठी पुल का वीडियो आपको दिखाएंगे, लेकिन उससे पहले इसकी खूबियां जान लेते हैं। प्रतापनगर की लाइफलाइन कहा जाने वाला डोबरा-चांठी पुल देश का सबसे लंबा सस्पेंशन ब्रिज है, इसे टिहरी झील के ऊपर बनाया गया है। पुल को आकर्षक बनाने के लिए इस पर अत्याधुनिक फसाड लाइटिंग सिस्टम भी लगाया जा रहा है, जिस पर पांच करोड़ की लागत आएगी।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: ‘इंडियाज बेस्ट डांसर’ में पहाड़ी छोरे का धमाल, टॉप-12 में पहुंचे अमन शाह..देखिए
इस तरह उत्तराखंड का ये शानदार ब्रिज दिल्ली के सिग्नेचर और कोलकाता के हावड़ा ब्रिज की तरह जगमगाएगा। टिहरी बांध पर बने देश के सबसे लंबे सिंगल लेन सस्पेंशन ब्रिज की लंबाई 725 मीटर है। इस पुल को बनने में 15 साल का वक्त जरूर लगा, लेकिन सालों की मेहनत के बाद बना ये पुल ना सिर्फ आवागमन का बेहतर जरिया बनेगा, बल्कि इससे टिहरी में पर्यटन को बढ़ावा भी मिलेगा। इस पुल पर चलने वाले लोगों के लिए ये अनुभव शानदार और यादगार होने वाला है। डोबरा-चांठी पुल को पर्यटन की दृष्टि से भी काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। डोबरा-चांठी सस्पेंशन ब्रिज का एक खूबसूरत वीडियो मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रमेश भट्ट ने अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किया। इस वीडियो के जरिए आप डोबरा-चांठी पुल की खूबसूरती को करीब से निहार सकते हैं। वीडियो में उन्होंने इस पुल की खासियत भी बताई है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में आज 658 लोग कोरोना पॉजिटिव, 12 लोगों की मौत..26094 पहुंचा आंकड़ा
डोबरा-चांठी पुल की कुल लंबाई 725 मीटर है। पुल में सस्पेंशन ब्रिज 440 मीटर लंबा है। पुल में मोटर मार्ग की चौड़ाई पांच मीटर और फुटपाथ 0.75 मीटर चौड़ा है। पुल के बनने से टिहरी-उत्तरकाशी के लोगों को काफी फायदा होगा। इस वक्त टिहरी से प्रतापनगर जाने के लिए पांच से छह घंटे लगते हैं। इस पुल के बन जाने के बाद टिहरी से प्रतापनगर का सफर डेढ़ घंटे में पूरा होगा। बात चाहे सुरक्षा की हो या फिर सुंदरता की...ये पुल हर पैमाने पर खरा उतरेगा। पुल पर बूम बैरियर भी लगाए गए हैं। पुल की भार क्षमता 16 टन है। इससे ज्यादा वजन के वाहन पुल पर नहीं जा सकेंगे। पुल के दोनों तरफ सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं। डोबरा चांठी पुल का फायदा टिहरी ही नहीं उत्तरकाशी के लोगों को भी होगा। शुरुआत के वक्त डोबरा-चांठी पुल के लिए 89 करोड़ की लागत तय हुई थी, आज ये पुल 325 करोड़ रुपये के बजट को पार कर चुका है। टिहरी झील पर बना डोबरा-चांठी पुल प्रदेश में पर्यटन का आधार बनेगा। आगे देखें वीडियो

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top