नवरात्र में कुट्टू के आटे से रहें सावधान, यहां 115 लोग हो गए बीमार (Beware of Kuttu flour in Navratri)
Connect with us
Image: Beware of Kuttu flour in Navratri

नवरात्र में कुट्टू के आटे से रहें सावधान, यहां 115 लोग हो गए बीमार

अगर आप भी व्रत में कुट्टू के आटे का सेवन कर रहे हैं तो ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। कहीं ऐसा ना हो कि मिलावटी कुट्टू आपकी सेहत बिगाड़ दे।

नवरात्र पर्व की शुरुआत हो गई है। इस दौरान श्रद्धालु उपवास रखते हैं। उपवास में कई जगह अन्न नहीं खाया जाता। इस दौरान कुट्टू के आटे का इस्तेमाल किया जाता है। अगर आप भी व्रत में कुट्टू के आटे का सेवन कर रहे हैं तो ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। कहीं ऐसा ना हो कि मिलावटी कुट्टू आपकी सेहत बिगाड़ दे। हरिद्वार के रुड़की में भी यही हुआ। यहां कुट्टू के आटे की पूरी खाने से 115 लोग बीमार पड़ गए। सब को उल्टी-दस्त की शिकायत होने लगी। हालत बिगड़ने पर सभी को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है। कुछ लोग निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन ने रुड़की में कुट्टू के आटे की बिक्री पर रोक लगा दी है।

यह भी पढ़ें - देहरादून के 60 इलाकों पर नगर निगम की नज़र, जल्द होगी बड़ी कार्रवाई
प्रशासन और खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम क्षेत्र में लगातार छापे मार रही है। इस दौरान टीम ने पांच दुकानों से कुट्टू के आटे के सैंपल लिए। इसके अलावा कुट्टू के आटे के थोक विक्रेता की दुकान से प्रशासन ने कुट्टू के आटे के 14 कट्टे जब्त कर सारा आटा नष्ट करा दिया। रुड़की में कुट्टू के आटे के सेवन के बाद लोगों के बीमार पड़ने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। यहां नवरात्र के पहले दिन ही व्रत में मिलावटी कुट्टू श्रद्धालुओं के लिए मुसीबत बन गया। इस मिलावटी आटे के सेवन ने कई श्रद्धालुओं को अस्पताल पहुंचा दिया। नवरात्र के व्रत के दौरान अन्न का सेवन नहीं किया जाता। इसलिए व्रत रखने वाले श्रद्धालु शाम के वक्त कुट्टू से बनी पूड़ी या फिर पकौड़ी खाते हैं, लेकिन रुड़की में यही कुट्टू लोगों की सेहत के लिए जहर साबित हुआ। यहां कुट्टू के आटे से बनी पूरी खाने के बाद सौ से ज्यादा लोग बीमार पड़ गए।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में मिला वह दुर्लभ जीव..जिसकी तलाश दुनियाभर के वैज्ञानिकों को है
शनिवार को यहां सिविल अस्पताल में एक ही परिवार के चार लोगों को एडमिट कराया गया था। सभी को चक्कर आ रहे थे। उल्टियां हो रही थीं, हाथ-पैर भी कांप रहे थे। पूछताछ में पता चला कि सभी ने कुट्टू के आटे की पूरी खाई थी। डॉक्टरों ने इनका इलाज शुरू किया ही था कि तभी ऐसे ही लक्षणों वाले मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी। लोग उल्टी और चक्कर आने की शिकायत लेकर अस्पताल पहुंचने लगे। सुबह होने तक मरीजों की संख्या 115 पार पहुंच गई। इतनी बड़ी संख्या में लोगों को फूड प्वॉइजनिंग होने पर प्रशासन, खाद्य सुरक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग भी हरकत में आ गया। बाद में उन दुकानों पर छापा मारा गया, जहां से लोगों ने कुट्टू का आटा खरीदा था। इसके बाद खाद्य सुरक्षा विभाग ने कुट्टू के आटे के सैंपल लिए। रुड़की के अलावा भगवानपुर और मंगलौर से भी कुट्टू के आटे के सैंपल कलेक्ट किए गए हैं। इसके अलावा थोक विक्रेता के यहां से जब्त 14 किलो कुट्टू का आटा नष्ट करा दिया गया है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : शिव कैलाश के वासी.. केदारनाथ धाम के कपाट खुले
वीडियो : राका भाई - उत्तराखंड में स्वरोजगार की कहानी
वीडियो : शंख भगवान विष्णु को बेहद प्रिय है, फिर भी बदरीनाथ में नहीं बजता

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top