अच्छी खबर: 18 साल बाद कोटद्वार को मिली नई ट्रेन (Kotdwar got new Jan shatabdi train)
Connect with us
Image: Kotdwar got new Jan shatabdi train

अच्छी खबर: 18 साल बाद कोटद्वार को मिली नई ट्रेन

सांसद अनिल बलूनी की कोशिशों से कोटद्वार की जनता का सफर सुखद होने जा रहा है। कोटद्वार-दिल्ली रेलमार्ग पर जनशताब्दी एक्सप्रेस का संचालन शुरू होने वाला है।

कोटद्वार के लोगों के लिए नया साल नई सौगात लेकर आया। कोटद्वार समेत आस-पास के गांवों में रहने वाले यात्रियों को नई ट्रेन का उपहार मिलने वाला है। अंग्रेजों के जमाने में बने कोटद्वार रेलवे स्टेशन से जल्द ही जनशताब्दी एक्सप्रेस का संचालन किया जाएगा। कोटद्वारवासी पिछले 18 साल से नई ट्रेन का संचालन शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं, ये इंतजार जल्द ही खत्म होने वाला है। जनशताब्दी ट्रेन के संचालन से पहाड़ के लोगों का सफर आसान होगा। व्यापारी वर्ग को भी राहत मिलेगी। क्षेत्र को मिली नई ट्रेन की सौगात का श्रेय राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी को जाता है। जिन्होंने क्षेत्र में नई ट्रेन का संचालन शुरू कराने के लिए हरसंभव प्रयास किए। उनकी कोशिशों से गढ़वाल क्षेत्र की जनता का सफर सुखद होने जा रहा है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: नए साल पर प्रेमी प्रेमिका ने उठाया आत्मघाती कदम..जहर खाकर की खुदकुशी
कोटद्वार-दिल्ली रेलमार्ग पर जनशताब्दी एक्सप्रेस का संचालन शुरू होने वाला है। जिससे आमजन में खुशी की लहर है। यहां आपको कोटद्वार रेलवे स्टेशन के इतिहास के बारे में भी बताते हैं। गढ़वाल का द्वार कहे जाने वाले कोटद्वार में रेलवे स्टेशन का निर्माण साल 1889-90 में हुआ था। रेलवे स्टेशन को बने हुए सौ साल से ऊपर हो चुके हैं, लेकिन अब तक यहां से सिर्फ 5 ट्रेनें ही संचालित होती हैं। जल्द ही इनकी संख्या छह हो जाएगी। क्योंकि कोटद्वार से जनशताब्दी एक्सप्रेस का संचालन भी किया जाएगा। इससे पहले कोटद्वार स्टेशन को नई ट्रेन की सौगात साल 2002-03 में मिली थी। उस वक्त यहां से गढ़वाल एक्सप्रेस का संचालन शुरू किया गया था। कोटद्वार रेलवे स्टेशन नॉर्दन रेलवे के मुरादाबाद मंडल के अधीन है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: ट्रक ने महिला को 50 मीटर तक घसीटा..गांव वालों ने सड़क पर लाश रखकर किया प्रदर्शन
इस वक्त कोटद्वार से नजीबाबाद के लिए तीन पैसेंजर ट्रेनों का संचालन किया जाता है। साथ ही कोटद्वार-दिल्ली रूट पर गढ़वाल एक्सप्रेस और मसूरी एक्सप्रेस भी चलती है। गढ़वाल एक्सप्रेस कोटद्वार से डायरेक्ट दिल्ली जाती है, लेकिन मसूरी एक्सप्रेस के डिब्बे कोटद्वार-नजीबाबाद वाली पैसेंजर ट्रेन पर लग कर नजीबाबाद जाते हैं। वहां से इन्हें देहरादून से दिल्ली जाने वाली मसूरी एक्सप्रेस के साथ जोड़ा जाता है। इस प्रोसेस के दौरान यात्रियों को दो से तीन घंटे नजीबाबाद स्टेशन पर गुजारने पड़ते हैं। इन्हीं परेशानियों को देखते हुए क्षेत्र के लोग दिल्ली रेल मार्ग के साथ ही हावड़ा, जयपुर समेत अन्य जगहों के लिए रेल सेवा शुरू करने की मांग कर रहे थे। अब सांसद अनिल बलूनी के प्रयासों से कोटद्वार क्षेत्र को जनशताब्दी एक्सप्रेस की सौगात मिली है। नई रेल सेवा शुरू होने से पहाड़ के लोगों का सफर सुखद और आरामदायक होगा। जो व्यापारी दिल्ली से सामान लाकर पहाड़ों में सप्लाई करते हैं, उन्हें भी काफी सुविधा मिलेगी।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top