उत्तराखंड उधमसिंह नगरUttarakhand Elections Know History of Khatima the Real Challenge for Dhami

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव: इस सीट पर होगी धामी की अग्निपरीक्षा, जानिये यहां का अब तक का इतिहास

सबसे कम वोटर वाला विस क्षेत्र के होने के चलते खटीमा में मुकाबला हमेशा नजदीकी रहा है। यहां एक-एक वोट के लिए खूब खींचतान होती है।

Pushkar Singh Dhami: Uttarakhand Elections  Know History of Khatima  the Real Challenge for Dhami
Image: Uttarakhand Elections Know History of Khatima the Real Challenge for Dhami

उधमसिंह नगर: उत्तराखंड की पांचवीं विधानसभा का चुनावी समर कई दिग्गजों के सियासी करियर के लिए निर्णायक होने जा रहा है। सबसे बड़ी चुनौती सीएम पुष्कर सिंह धामी के सामने है। सूबे का मुख्यमंत्री बनने के छह महीने बाद उनके कंधे पर पूरे सूबे में बीजेपी को चुनाव जिताने की जिम्मेदारी है। बीजेपी युवा सीएम के चेहरे के दम पर मैदान में उतर रही है। इसी के साथ उनका विधानसभा क्षेत्र खटीमा वीआईपी सीट में शामिल हो गया है। वहीं वोटरों के लिहाज से देखा जाए तो जिले में सबसे कम वोटर वाला विस क्षेत्र होने के चलते यहां मुकाबला हमेशा नजदीकी रहा है। ऐसे में यहां हर एक वोट के लिए संघर्ष होता दिखता है।

Khatima Assembly Seat:

खटीमा विस क्षेत्र में मतदाताओं की संख्या 1,19,980 है। सभी राजनीतिक विशेषज्ञों की नजर इस सीट पर टिकी हैं। जाहिर है ऐसे में सब सीएम धामी से बड़ी जीत की उम्मीद लगाए हुए हैं। यहां उनके प्रतिद्वंद्वी के रूप में कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष भुवन कापड़ी का मैदान में उतरना लगभग तय है। फिलहाल आम आदमी पार्टी ने अपने प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं किया है, लेकिन आप के पूर्व अध्यक्ष एसएस कलेर चुनावी मैदान में उतरने का ऐलान कर चुके हैं। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने ऊधमसिंहनगर जिले की खटीमा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की घोषणा की है। उन्होंने साल 2012 और 2017 में भी यहां से जीत हासिल की थी। आगे पढ़िए... खटीमा में क्या रहेंगे चुनाव के मुद्दे

ये भी पढ़ें:

Khatima Assembly Seat में चुनावी मुद्दे :

खटीमा के मुद्दों की बात करें तो यहां जाम से निजात के लिए बाईपास की जरूरत है। इसके अलावा गोठ और खत्ते में 70 साल से रह रहे लोगों को भूमिधरी अधिकार दिलाने का मुद्दा भी बेहद अहम है। ड्रेनेज सिस्टम के लिए ठोस एक्शन प्लान की जरूरत है। साल 2017 में हुए चुनाव के दौरान सीएम पुष्कर सिंह धामी को कुल 29,539 वोट मिले थे। उन्होंने कांग्रेस के उम्मीदवार भुवन कापड़ी को 2,709 वोटों से हराया था। इस तरह सीएम पुष्कर सिंह धामी चुनाव जीते तो थे, लेकिन जीत का अंतर काफी कम रहा था। चलिए अब खटीमा के वर्तमान राजनीतिक समीकरणों पर भी एक नजर डाल लेते हैं।

कौन-कौन हैं दावेदार :

खटीमा सीट से दावेदार-
पुष्कर सिंह धामी, बीजेपी
भुवन कापड़ी, कांग्रेस
प्रकाश तिवारी, कांग्रेस
एसएस कलेर, आप
रमेश राणा, आप
विक्की सिंह, सपा
आगे पढ़िए... पिछली बार क्या रहे थे नतीजे..

ये भी पढ़ें:

विधानसभा चुनाव 2017 के नतीजे :

विधानसभा चुनाव 2017 पर एक नजर-
उम्मीदवार पार्टी मिले वोट
पुष्कर सिंह धामी (विजयी) बीजेपी 29,539
भुवन कापड़ी कांग्रेस 26,830
रमेश राणा, बसपा 17,804
ललित सिंह निर्दलीय 4,516
जीत का अंतर बीजेपी 2,709
खटीमा सीट में मतदाता:
खटीमा विस क्षेत्र: मतदाता
कुल मतदाता 1,19,980
पुरुष मतदाता 60,797
महिला मतदाता 59,178
थर्ड जेंडर 05
नए मतदाता 5080
कुल बूथ 132