उत्तराखंड उधमसिंह नगरAam Aadmi Party Uttarakhand State President Deepak Bali resigned

..तो उत्तराखंड में आम आदमी पार्टी का पैकअप हो गया? आखिरी मजबूत कड़ी भी टूट गई

उत्तराखंड में 'आप' को एक बार फिर से लगा बड़ा झटका, प्रदेश अध्यक्ष दीपक बाली ने दिया इस्तीफा..पढ़िए पूरी खबर

uttarakhand news rajya sameeksha Vikalp rahit sankalp sep 22
deepak bali aam aadmi party uttarakhand : Aam Aadmi Party Uttarakhand State President Deepak Bali resigned
Image: Aam Aadmi Party Uttarakhand State President Deepak Bali resigned (Source: Social Media)

उधमसिंह नगर: उत्तराखंड में 'आप' को एक के बाद एक बड़े झटके पड़ते ही जा रहे हैं।

AAP Uttarakhand State President Deepak Bali resigned

उत्तराखंड में आम आदमी की नींव कमजोर पड़ती जा रही है और इसी के साथ पार्टी का भविष्य भी उत्तराखंड में अंधकार में जा चुका है। हाल ही में आम आदमी पार्टी के ऊपर तब गाज गिरी थी जब सीएम उम्मीदवार कर्नल अजय कोठियाल ने आप की सदस्यता त्यागी थी। अब (आप) को एक बार एक बार फिर तगड़ा झटका लगा है। राज्य के 'आप' प्रमुख दीपक बाली ने सोमवार रात अचानक अपने पद और पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।मिली गई जानकारी के अनुसार, आम आदमी पार्टी के पिछले महीने कर्नल अजय कोठियाल द्वारा इस्तीफा देने के बाद दीपक बाली को प्रदेश अध्यक्ष बनाया था। और महज एक महीने से भी कम समय के अंदर बाली ने भी इस तरह से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया है।

ये भी पढ़ें:

उत्तराखंड में चार महीने पहले ही आम आदमी पार्टी ने विधानसभा चुनाव में कर्नल कोठियाल को वह गंगोत्री विधानसभा सीट से मैदान में उतारा था। लेकिन वे भाजपा के सुरेश सिंह चौहान से चुनाव हार गए। आम आदमी पार्टी का उत्तराखंड में खाता तक नहीं खुला था। इसके बाद पार्टी के सीएम फेस कर्नल कोठियाल ने पार्टी से इस्तीफा दिया और पार्टी को बड़ा झटका लगा जिसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले महीने प्रदेश यूनिट को भंग कर दिया और काशीपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने वाले दीपक बाली को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया था। मगर अब 1 महीने से भी कम समय में दीपक बाली ने भी इस्तीफा देकर आम आदमी पार्टी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड में सरकार बनाने के लिए जो दावे किए थे वे पूरी तरह से गलत साबित हुए। अब यह देखना बेहद दिलचस्प होगा उत्तराखंड में अपने पहले चुनावों में एक भी खाता नहीं खोलने वाली आम आदमी पार्टी इन झटकों से सबक लेकर आगामी चुनावों में नई रणनीति अपना कर जनता का दिल जीत पाती है या नहीं।

ये भी पढ़ें: