उत्तराखंड देहरादूनOnline map pass to build house in Uttarakhand

उत्तराखंड में घर बनाने वालों के लिए अच्छी खबर, अब घर बैठे होगा नक्शा पास..जानिए प्रोसेस

अच्छी खबर: अब मकान का नक्शा पास कराने के लिए नहीं होगी परेशानी, घर बैठे नक्शा होगा पास

uttarakhand news rajya sameeksha Vikalp rahit sankalp sep 22
uttarakhand Online map pass: Online map pass to build house in Uttarakhand
Image: Online map pass to build house in Uttarakhand (Source: Social Media)

देहरादून: अब आपको मकान का नक्शा पास कराने के लिए दिन रात प्राधिकरण के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।

Online map to build house in Uttarakhand

आवास विभाग ने लोगों को एक बड़ी राहत दे दी है। 30 वर्ग मीटर यानी 36 गज से लेकर 200 वर्ग मीटर यानी 241 गज तक के 40 नक्शे आवास विभाग ने ऑनलाइन जारी कर दिए हैं। आप इनमें से अपनी पसंद का नक्शा चुनकर ऑनलाइन उसकी प्रक्रिया पूरी कर मकान निर्माण कर सकते हैं। दरअसल अब तक लोगों को अपने मकान का नक्शा अप्रूव कराने के लिए विभाग के दिन रात चक्कर काटने पड़ते थे मगर आवास विभाग द्वारा एकल आवास नक्शों की प्रक्रिया को आसान करने के लिए अब 40 प्री-एप्रूव्ड नक्शे ऑनलाइन जारी किए हैं। इनमें 30 वर्ग मीटर से 45 वर्ग मीटर के दस, 45 वर्गमीटर से 75 वर्गमीटर के दस, 75 वर्ग मीटर से 150 वर्गमीटर के दस और 150 वर्ग मीटर से 200 वर्गमीटर के दस नक्शे शामिल हैं।

ये भी पढ़ें:

चारों श्रेणियों में आधे नक्शे पर्वतीय क्षेत्रों के हिसाब और आधे मैदानी क्षेत्रों के हिसाब से तैयार किए गए हैं। उत्तराखंड आवास एवं नगर विकास प्राधिकरण की ओर से ईजी एप पर यह सुविधा उपलब्ध कराई गई है। ऐसे में अब बैठे बिठाए नक्शे पास होंगे। इसके लिए आप सबसे पहले अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र (सीएससी) जाएं। यहां सीएससी संचालक के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन जमा कर प्लॉट के साइज के हिसाब से नक्शे का चयन करें। इसके बाद आवेदन शुल्क का ऑनलाइन भुगतान करना होगा। शुल्क जमा कराने के बाद आवेदक को अनुमोदित नक्शा ई-मेल आईडी या जनसेवा केंद्र से प्राप्त होगा। स्थानीय विकास प्राधिकरण को एकल आवास के लिए 15 दिन के भीतर इस नक्शे को पास करना होगा। इसके बाद प्राधिकरण अपने स्तर से जांच करेगा। नक्शे पास कराने की यह सुविधा सातों दिन और 24 घंटे उपलब्ध रहेगी। आवेदक बिना किसी तकनीकी पेशेवर, ड्राफ्टमैन या आर्किटैक्ट से नक्शा हासिल कर सकेंगे।