उत्तराखंड पौड़ी गढ़वालLiquor seized from police sticker car in Kotdwar

गढ़वाल: जिस कार में आगे-पीछे लिखा था POLICE, उस कार से निकली दारू की 25 पेटियां

तलाशी के दौरान कार से शराब की 25 पेटियां बरामद हुईं। साथ ही कार से उत्तर प्रदेश पुलिस की टोपी और सेना का एक आईकार्ड भी बरामद हुआ है।

uttarakhand news rajya sameeksha Vikalp rahit sankalp sep 22
kotdwar police car sharab: Liquor seized from police sticker car in Kotdwar
Image: Liquor seized from police sticker car in Kotdwar (Source: Social Media)

पौड़ी गढ़वाल: उत्तराखंड में शराब की तस्करी के लिए तस्कर नए-नए हथकंडे इस्तेमाल कर रहे हैं।

Liquor seized from police sticker car in Kotdwar

अब पौड़ी गढ़वाल के कोटद्वार में ही देख लें, यहां शराब तस्करों ने पुलिस से बचने के लिए कार के आगे-पीछे पुलिस लिखा हुआ था। ये लोग रविवार को हूटर बजाकर बाजार से निकल रहे थे, तभी पुलिस बल ने नजीबाबाद चौक पर कार को रोक लिया। तलाशी के दौरान कार से शराब की 25 पेटियां बरामद हुईं। कार से उत्तर प्रदेश पुलिस की टोपी और सेना का एक आईकार्ड भी बरामद हुआ है। इस मामले में कार चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि उसका साथी फरार है। घटना कोतवाली क्षेत्र की है। रविवार को डीएल नंबर की स्कॉर्पियो कार नजीबाबाद की ओर से झंडा चौक की तरफ आ रही थी। पुलिस ने कार को रुकने का इशारा किया तो कार चालक ने कार को रोकने के बजाए पटेल मार्ग की ओर मोड़ दिया।

ये भी पढ़ें:

पुलिस टीम ने कार का पीछा किया और बालाजी मंदिर के पास कार को रोक लिया। इस दौरान कार में सवार एक व्यक्ति मौके से भाग गया। जबकि चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। तलाशी के दौरान कार से चंडीगढ़ मार्क की शराब की तीन सौ बोतलें बरामद हुई। साथ ही उत्तर प्रदेश पुलिस की टोपी और सेना का एक आइकार्ड भी बरामद हुआ। आरोपी चालक की पहचान मेरठ निवासी सुभाष पुत्र सुरेंद्र सिंह के रूप में हुई। उसके पास न तो कार के कागज थे, और न ही लाइसेंस। पूछताछ मे आरोपी ने बताया कि वो हापुड़ निवासी राहुल के साथ सोनीपत से शराब लेकर आ रहा था। रास्ते में पुलिस वाहन को न रोके, इसलिए उन्होंने गाड़ी पर पुलिस लिखवाने के साथ ही हूटर का भी प्रयोग किया। फिलहाल आरोपी चालक पुलिस की गिरफ्त में है, उसके साथी की तलाश की जा रही है।