Connect with us
Image: New circle rates of land apply in uttarakhand

देहरादून में बढ़े प्रॉपर्टी के दाम, जानिए किस जगह कितने फीसदी की हुई बढ़ोतरी

देहरादून में राजपुर रोड और सहारनपुर रोड के पास स्थित जमीनों के सर्किल रेट नहीं बढ़े हैं...

उत्तराखंड में अपना आशियाना बनाना महंगा हो गया है। प्रदेश के सभी जिलों में नए सर्किल रेट लागू हो गए हैं। सोमवार को वित्त विभाग ने नए सर्किल रेट का शासनादेश जारी कर दिया। जमीन का सर्किल रेट बढ़ने से कृषि और अकृषि भूमि महंगी हो गई है, यानि अब उत्तराखंड में जमीन खरीदने वालों को जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी। प्रदेश के किन जिलों में कितने सर्किल रेट बढ़े हैं। किन क्षेत्रों में सर्किल रेट नहीं बढ़ाए गए हैं, ये सभी जानकारी राज्य समीक्षा आप तक पहुंचाएगा। वित्त विभाग ने नई दरों का शासनादेश जारी कर दिया है। जिसमें सभी जिलों में क्षेत्र के हिसाब से तय सर्किल रेट लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। जिन पहाड़ी जिलों में जमीन सबसे ज्यादा महंगी हो गई है, वो जिले हैं पौड़ी और नैनीताल...दोनों ही पहाड़ी जिले हैं। जहां कृषि और अकृषि भूमि के दाम बढ़ा दिए गए हैं। बागेश्वर, पिथौरागढ़ और चंपावत में भी सर्किल रेट बढ़े हैं, पर यहां दूसरे जिलों की तुलना में जमीन के रेट फिर भी कम हैं। सबसे पहले बात करेंगे पौड़ी जिले की। जहां कई क्षेत्रों में जमीन के रेट 100 से 800 परसेंट तक बढ़ गए हैं। इसी तरह नैनीताल में एक प्रतिशत से लेकर 250 प्रतिशत तक रेट बढ़ाए गए है। चंपावत जिले के 758 क्षेत्रों के सर्किल रेट में 5 से 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। हालांकि जो लोग देहरादून में जमीन खरीदने वाले हैं, उनके लिए राहत वाली खबर है, क्योंकि दून जिले में जमीन की कीमतों में अधिकतम 40 प्रतिशत की ही बढ़ोतरी हुई है। यहां सिर्फ उन जगहों का सर्किल रेट बढ़ाया गया है, जहां पहले के रेट में विसंगतियां थीं। जिन क्षेत्रों में कृषि और अकृषि भूमि के सर्किल रेट में काफी अंतर था, वहां इसे एक समान कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें - सावधान! उत्तराखंड में आज बर्फबारी का अलर्ट, 4 जिलों के लोग सावधान रहें
देहरादून में जिन जमीनों के सर्किल रेट नहीं बढ़े हैं, उनके बारे में भी जान लें। राजपुर रोड और सहारनपुर रोड के पास स्थित जमीनों के सर्किल रेट नहीं बढ़े हैं। इसी तरह हरिद्वार रोड और शहर के पुराने इलाकों में भी सर्किल रेट नहीं बढ़ाए गए। प्रशासन ने कहा कि इन जगहों पर कई सालों से बेहद कम रजिस्ट्रियां हुई हैं, जिस वजह से सर्किल रेट नहीं बढ़ाए गए। राजपुर रोड पर सर्किल रेट 50 मीटर तक 50 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर और इससे अधिक की दूरी वाली भूमि के लिए 30 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर ही रखे गए हैं। सहारनपुर रोड पर आवासीय भूमि के लिए 14 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर और व्यवसायिक निर्माण के लिए 28 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर सर्किल रेट हैं। जिन जगहों के सर्किल रेट में बदलाव नहीं हुआ है उनमें राजपुर रोड पर स्थित घंटाघर, आरटीओ दफ्तर, मसूरी बाइपास, कुठालगेट, मालसी, गांधी रोड, सहारनपुर चौक, चकराता रोड और बल्लुपुर चौक जैसे इलाके शामिल हैं। इसके अलावा प्रिंस चौक से रिस्पना पुल, न्यू कैंट रोड से ईसी रोड, सुभाष रोड और घंटाघर के भीतरी इलाकों में सर्किल रेट पहले जैसे ही हैं। जीएमएस रोड से सटे इलाकों में भी सर्किल रेट नहीं बढ़े हैं। देहरादून जिले में 18 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर तक की दर वाले क्षेत्रों के सर्किल रेट में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है, जबकि 14 हजार रुपये या इससे कम दरों वाले क्षेत्रों में 10 से 20 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। सबसे कम कीमत वाले क्षेत्रों में ही सर्किल रेट में 36 से 40 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। देहरादून के जिन इलाकों में सर्किल रेट बढ़ा है उनमें कारगी क्षेत्र, हरिद्वार बाईपास रोड, नेशविला रोड, सहस्रधारा क्रॉसिंग, रायपुर रोड, विधानसभा क्षेत्र जैसी जगहें शामिल हैं। यहां जिन इलाकों में पहले सर्किल रेट 14000 था, वहां इसे बढ़ाकर 16000 कर दिया गया है। इसी तरह नए स्लैब में 12000 की जगह 14000 और 9000 की जगह 10500 का रेट रखा गया है।

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत
वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top