उत्तराखंड का ये नौजवान 1 महीने से लापता, पर्शिया की खाड़ी में डूबा था जहाज (Uttarakhand Nirmal Singh Bisht missing)
Connect with us
Uttarakhand Govt Denghu Awareness Campaign
Image: Uttarakhand Nirmal Singh Bisht missing

उत्तराखंड का ये नौजवान 1 महीने से लापता, पर्शिया की खाड़ी में डूबा था जहाज

4 जून को पर्शिया की खाड़ी में एक ईरानियन जहाज डूब गया था। इस जहाज पर बागेश्वर के रहने वाले निर्मल सिंह बिष्ट भी सवार थे, पिछले 1 महीने से उनकी कोई खबर नहीं मिली...

कोई अपना जब बिना अलविदा कहे अचानक गायब हो जाता है तो परिवार वालों के लिए पूरी जिंदगी किसी नर्क जैसी बन जाती है। अच्छी या बुरी कोई खबर मिले, तो इंसान फिर भी दिल पर पत्थर रखकर सब्र कर ही लेता है, लेकिन अगर किसी का पता ही ना चले तो जिंदगी उम्मीद और निराशा के बीच झूलने लगती है। बागेश्वर के रहने वाले निर्मल का परिवार भी इन दिनों इसी पीड़ा से गुजर रहा है। निर्मल सिंह बिष्ट ईरान की शिपिंग कंपनी में जॉब करते थे। बीते 4 जून को पर्शिया की खाड़ी में एक ईरानियन जहाज डूब गया था। दुर्भाग्य से निर्मल भी इसी जहाज पर सवार थे। 5 जून को निर्मल के परिजनों को निर्मल के जहाज के डूबने की दुखद सूचना मिली। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड के लिए गौरवशाली पल, वर्ल्ड बॉक्सिंग रैंकिंग में चौथे नंबर पर कविंद्र बिष्ट
बताया गया कि यह जहाज उत्तरी पर्शिया की खाड़ी में किसी निर्माण कार्य से टकराया था, जिससे ये दुर्घटना हुई और जहाज डूब गया। यह जहाज ईरानियन बंदरगाह से कुवैत जाता था। हादसे के वक्त जहाज में 9 लोग सवार थे। जिनमें से 4 को सुरक्षित बचा लिया गया। जबकि पांच लोगों के बारे में कुछ पता नहीं चल सका। इनमें निर्मल सिंह बिष्ट भी शामिल हैं। पिछले एक महीने से घरवाले निर्मल सिंह की कोई खबर मिलने का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन ये इंतजार खत्म ही नहीं हो रहा। निर्मल सिंह बिष्ट 28 साल के हैं, उनका परिवार भागीरथी कॉलोनी में रहता है। युवक के पिता प्रकाश सिंह बिष्ट ने बताया कि उन्होंने बेटे की खोजबीन के लिए विदेश मंत्री से लेकर डीजी शिपिंग तक को पत्र लिखा, लेकिन कहीं से कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिला।

यह भी पढ़ें - पहाड़ के दलवीर चौहान ने खेती से बदली जिंदगी, लॉकडाउन में सब्जियों से शानदार कमाई
जिस एजेंट ने निर्मल को मर्चेंट नेवी में जॉब दिलाई थी, वो भी टालमटोल कर रहा है। उन्होंने बताया कि छह महीने पहले ही उनके बेटे को हल्द्वानी के एजेंट ने ईरान की लाइव शिपिंग कंपनी में जॉब दिलाई थी। जिसके बाद निर्मल की तैनाती शिप बेहबहान में की गई। नौकरी दिलाते वक्त एजेंट ने 4.60 लाख रुपये लिए थे। उसने निर्मल की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी लेने की बात भी कही थी, लेकिन अब वो लगातार गुमराह कर रहा है। कभी वो रेस्क्यू जारी होने की बात करता है तो कभी पता लगाने की। जिस वजह से परिजनों को अनहोनी की आशंका होने लगी है। शिपिंग कंपनी वाले और एजेंट कुछ छिपा रहे हैं। गुरुवार को निर्मल सिंह बिष्ट के पिता प्रकाश सिंह ने इस संबंध में एसपी रचिता जुयाल को ज्ञापन देकर मदद की गुहार लगाई।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : उत्तराखंड में मौजूद है परीलोक...जानिए खैंट पर्वत के रहस्य
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top