उत्तराखंड: 80 लाख की कीमत के दुर्लभ जीव की हो रही थी तस्करी..पुलिस ने मारी रेड (Smuggling of rare species of pangolin in Haldwani)
Connect with us
Image: Smuggling of rare species of pangolin in Haldwani

उत्तराखंड: 80 लाख की कीमत के दुर्लभ जीव की हो रही थी तस्करी..पुलिस ने मारी रेड

एक संरक्षित प्रजाति का जीवित पैंगोलिन जब्त किया गया है। इस पैंगुलिन की इंटरनेशनल मार्केट में कीमत 80 लाख रुपये है।

उत्तराखंड के नैनीताल जिले से एक बड़ी खबर है। नैनीताल के हल्द्वानी से 6 लोगों के कब्जे से एक संरक्षित प्रजाति का जीवित पैंगोलिन जब्त किया गया है। इस पैंगुलिन की इंटरनेशनल मार्केट में कीमत 80 लाख रुपये है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रीति प्रियदर्शिनी के द्वारा जनपद नैनीताल में बड़े स्तर पर अवैध कार्यों के खिलाफ अभियान चलाए जा रहे हैं। इसी के तहत डॉ. जगदीश चंद्र अपर पुलिस अधीक्षक नगर हल्द्वानी के दिशा-निर्देश में बड़ा काम हुआ। दो अफसरों प्रमोद शाह और मनोज रतूड़ी नेतृत्व में टीम गठित की गई। सोमवार को सुबह पुलिस व वन विभाग की संयुक्त चेकिंग के दौरान डीवेर गोरापड़ाव हल्द्वानी के पास से 6 लोगों के कब्जे से एक संरक्षित प्रजाति का जीवित पैंगोलिन बरामद किया गया। इस पैंगुलिन की अंतराष्टीय बाजार में जिसकी कीमत करीब 80 लाख है। साथ ही पैंगुलिन की अवैध तस्करी में प्रयुक्त वाहन (मारुति सुजुकी स्विफ्ट) को भी सीज किया गया है। इस संबंध में पकड़े गए आरोपियों के विरुद्ध वन विभाग में वन्य जीव अधिनियम 1972 के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया है। सभी को आज ही न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।
यह भी पढ़ें - उत्तराखंड के 6 जिलों में बारिश-बर्फबारी का अलर्ट..आकाशीय बिजली गिरने के भी आसार

Loading...
Donate Plasma Campaign of Uttarakhand Govt

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : रुद्रप्रयाग के दो जाँबाज..अपने दम पर बचाई 50 लोगों की जान
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : शंख भगवान विष्णु को बेहद प्रिय है, फिर भी बदरीनाथ में नहीं बजता

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Uttarakhand CM Teerath Singh Rawat Apeal to Doctors in Uttarakhand

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top