Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
Image: Pauri garhwal manju kala gram pradhan

गढ़वाल: महिला प्रधान ने लॉकडाउन तोड़ने से मना किया, तो दारू में धुत युवकों ने दी गाली

देवल गांव में ग्राम प्रधान मंजू काला के साथ शराब के नशे में धुत्त कुछ युवको के बत्तमीजी, गाली-गलौज, और जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। पढ़िए पूरा मामला

पहाड़ों में शराबी युवकों ने नाक में दम कर रखा है। एक तो कोरोना का टेंशन ऊपर से दिल्ली से गांव की ओर वापस आये युवाओं का शराब पीकर हंगामा और शोर गुल मचाने का सिरदर्द। देश में लॉकडाउन होने के बाद दिल्ली के कई प्रवासियों ने उत्तराखंड में अपने-अपने गांव की ओर रुख किया। अब यह लोग सड़कों पर शराब पीकर हंगामा और शोरगुल कर रहे हैं, जिससे गांव वासियों को काफी परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं। पहाड़ी क्षेत्रों में यह बेखौफ युवा शराब के नशे में रोड पर खुलेआम घूम रहे हैं। इसी से संबंधित मामला कोटद्वार में सामने आया है, जहां अधिकारियों की लापरवाही भी साफ दिखाई दे रही है। कोटद्वार में ग्राम प्रधान से गाली-गलौच का मामला सामने आया है। सवाल ये है कि आखिर क्यों कोरोना की दहशत के बीच ऐसा हो रहा है? आगे पढ़िए पूरा मामला

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में 6 जिलों के हॉट स्पॉट सील हो सकते हैं, क्या जनता के लिए CM त्रिवेन्द्र लेंगे बड़ा फैसला?
आपको बता दें कि देवल खाल की ग्राम प्रधान मंजू काला ने अपने क्षेत्र में इन युवाओं को दारू पीकर घूमने के लिए और हुड़दंग मचाने को लेकर टोका तो युवाओं ने उन्हीं के साथ गाली-गलौज करके, उनको और उनके बेटे को जान से मारने की धमकी दी। आरोप है कि जब मामले की शिकायत की गई तो किसी ने भी कार्यवाही नहीं करी। ये मामला पौड़ी जिले के गांव सभा देवल खाल दुगड्डा ब्लॉक का है। लॉकडाउन के चलते दिल्ली से कुछ युवकों ने अपने गांव वापसी की थी। वह गांव के रास्तों पर शराब पीकर शोर मचा रहे हैं, और लोगों को परेशान कर रहे हैं। गांव की महिला ग्राम प्रधान मंजू काला के साथ भी उन्होंने गाली- गलौज करी, बत्तमीजी करी और जान से मारने की धमकी भी दी। ग्राम प्रधान ने इस बारे में कुछ बड़ी बातें बताई हैं. आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड कैबिनेट ने लिए दो बड़े फैसले..लॉकडाउन बढ़ेगा, विधायकों की सैलरी कटेगी
प्रधान ने बताया की देवल खाल में पिछले 3 दिनों से युवक दारू पीकर नशे में यहां-वहां घूम रहे हैं और हल्लागुल्ला कर रहे हैं। जब उन्होंने उनको यह सब करने से मना किया तो लड़कों ने उनके साथ गाली-गलौज शुरू कर दी और साथ ही साथ उनके परिवार वालों को भी अपशब्द कहने शुरू कर दिये। इसके बाद शराब में धुत्त उन युवकों ने उनके बेटे को और उनको जान से मारने की धमकी भी दी। ग्राम प्रधान ने इसकी सूचना पटवारी को लगातार 3 दिन से फोन करके दी तब भी मामले की कोई सुनवाई नहीं हुई और न ही कोई एक्शन लिया गया। वहां से केवल यह जवाब आ रहा था कि अभी उनके पास समय का अभाव है। मंजू काला ने फिर इसकी शिकायत एलआईयू पौड़ी से भी फोन करके की लेकिन फिर भी इस मामले की कोई भी सुनवाई नहीं हुई। थक-हार कर उन्होंने अंत में एसडीएम से शिकायत की है। इस मामले में अधिकारियों की लापरवाही साफ दिखाई दे रही है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : IPS अधिकारी के रिटायर्मेंट कार्यक्रम में कांस्टेबल को देवता आ गया
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

To Top