बदरीनाथ धाम में नमाज पढ़ने का मामला आग की तरह फैला, 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज (Update of Namaz case in Badrinath Dham)
Connect with us
Uttarakhand Govt Chardham Yatra Guidelines
Image: Update of Namaz case in Badrinath Dham

बदरीनाथ धाम में नमाज पढ़ने का मामला आग की तरह फैला, 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

बदरीनाथ धाम में नमाज पढ़ने के मामले ने पकड़ी तूल, ठेकेदार समेत 15 लोगों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा।

बकरीद में बद्रीनाथ धाम में नमाज पढ़ने की खबर ने तूल पकड़ ली है। हालांकि पुलिस ने इस खबर को महज एक अफवाह बताया है मगर फिर भी सोशल मीडिया पर इस खबर ने बवाल मचा दिया है। लोग पुलिस और प्रशासन की कड़ी निंदा कर रहे हैं और दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की मांग कर रहे हैं। अब इस बात में कितनी सच्चाई है यह तो वक्त ही बताएगा मगर फिलहाल पुलिस गहराई से मामले की जांच में जुट गई है। इस मामले में पुलिस ने बदरीनाथ धाम में ईद की नमाज पढ़ने के मामले में ठेकेदार समेत 15 लोगों के खिलाफ आपदा एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया है। जोशीमठ के जनप्रतिनिधियों एवं लोगों ने उपजिलाधिकारी से मामले में सख्त कार्यवाही की मांग की है। 21 जुलाई को सोशल मीडिया के जरिए यह बात फैली थी कि बदरीनाथ धाम में विशेष समुदाय के लोगों द्वारा बकरीद के दिन नमाज पढ़ी गई है। सोशल मीडिया पर फैली इस बात ने इस कदर तूल पकड़ी कि अब लोगों के बीच इसको लेकर भारी आक्रोश साफ तौर पर झलक रहा है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: आज 4 जिलों की मुश्किलें बढ़ाएगा मौसम, भारी से भारी बारिश का अलर्ट जारी
बात तो यहां तक पहुंच गई थी कि विश्व हिंदू परिषद हिंदू जागरण मंच और बजरंग दल के नेता ज्ञापन लेकर सीधा कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के पास पहुंच गए थे और उन्होंने कैबिनेट मंत्री को ज्ञापन सौंप कर कार्यवाही की मांग की थी। हालांकि चमोली पुलिस ने इस बात को अफवाह बताया है। चमोली पुलिस का कहना है कि सोशल मीडिया पर धाम में नमाज पढ़े जाने को लेकर भ्रमल संदेश फैलाया जा रहा है। पुलिस के बयान के बावजूद भी वहां पर लोगों का आक्रोश कम होता हुआ नहीं दिखाई दे रहा है। जोशीमठ के लोगों ने आरोपियों पर कड़ी कार्यवाही न होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है। उप जिलाधिकारी कुमकुम जोशी का कहना है कि मामले की गहराई से जांच की जा रही है। ठेकेदार समेत 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप सच साबित होने पर आरोपियों को कड़ी सजा मिलेगी।

यह भी पढ़ें - गढ़वाल: बीच सड़क पर स्लिप हुई स्कूटी, दर्दनाक हादसे में डिप्टी रेंजर की मौत
चमोली पुलिस ने बताया कि इन दिनों बद्रीनाथ में निर्माण कार्य चल रहा है और बकरीद के दिन विशेष समुदाय के ठेकेदार एवं मजदूरों ने अपने कमरों में नमाज अदा की थी मगर लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस ने ठेकेदार नाजिर, मोहम्मद आजम समेत 12 अन्य लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया है। वहीं बद्रीनाथ के तीर्थ पुरोहितों ने भी इस पूरे मामले की कड़ी निंदा करते हुए इसको शर्मनाक बताया है। ब्रह्मकपाल तीर्थ पुरोहित पंचायत के प्रवक्ता डॉक्टर बृजेश सती ने कहा है कि जिस धाम में शंख भी नहीं बजता वहां नमाज पढ़ना गलत है और अपराध है। उन्होंने कहा है कि दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जानी चाहिए। वहीं केदार सभा के।अध्यक्ष विनोद शुक्ला, महामंत्री कुबेर पोस्ती सहित कई लोगों ने इस पूरे प्रकरण को शर्मनाक बताया है और प्रदेश सरकार से उच्चस्तरीय जांच की मांग की है।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : Ishaan Khatter ने अल्मोड़ा में लगवाई कोरोना वैक्सीन
वीडियो : बिनसर टॉप में बादल फटने से चमोली में तबाही
वीडियो : BJP विधायक को गांव वालों ने घेरा..कहा- विधायक न होते तो लठ पड़ते
वीडियो : उत्तराखंड: 50 लाख कोरोना टीके, रोजगार, सेवा विस्तार, कर्फ्यू

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2021 राज्य समीक्षा.

To Top