Connect with us
Image: SWINE FLU IN UTTARAKHAND

उत्तराखंड में तापमान गिरते ही मंडराया नया खतरा, ऋषिकेश एम्स में प्रशासन अलर्ट

तापमान गिरते ही एक भयानक बीमार मुंह सामने खड़ी है. इसके लिए ऋषिकेश एम्स प्रशासन अलर्ट हो गया है।

उत्तराखंड में बर्फबारी हो रही है, मौसम में लगातार बदलाव दिख रहा है और तापमान लगातार घटता ही जा रहा है। अब तापमान गिरने के साथ ही उत्तराखंड में स्वाइन फ्लू का खतरा बढ़ गया है। जी हां आप जानते ही होंगे कि तापमान घटते ही स्वाइन फ्लू वायरस एक्टिव हो जाता है। उत्तराखंड इस बीमारी अछूता नहीं रहा है। इसे लेकर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान यानी एम्स प्रशासन अलर्ट हो गया है। एम्स निदेशक प्रो. रविकांत के निर्देश पर अलग अलग विभागों के डॉक्टरों ने आपात बैठक की। बैठक में स्वाइन फ्लू के मद्देनजर आठ बिंदुओं पर महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। हम आपको बता रहे हैं कि स्वाइन फ्लू के लक्षण क्या हैं और इससे कैसे सावधान रहा जा सकता है। तेज बुखार, खांसी, शरीर में दर्द और गले में दर्द स्वाइन फ्लू के लक्षण हो सकते हैं। ये बीमारी शरीर के किसी भी अंग को प्रभावित कर सकती है। ये हीमारी ऐसे व्यक्ति को तेजी से संक्रमित करती है जो पहले से बीमार हो। बीमारी के समय शरीर को पूरा रेस्ट दें, सामान्य स्थिति में हर रोज पीने वाले पानी की मात्रा को दोगुना बढ़ा दें, बुखार होने पर पैरासिटामोल की टेबलेट दिन में चार से पांच बार लें और तीन दिन दवा लेने पर आराम नहीं मिलने पर तत्काल डॉक्टर से से संपर्क करें। कुल मिलाकर कहें तो ठंड बढ़ने के साथ ही स्वाइन फ्लू का खतरा भी सामने है। एम्स के मेडिसिन विभाग में स्वाइन फ्लू के मद्देनजर 6 बिस्तर वाला आइसोलेशन रूम उपलब्ध है। साथ ही एन-95 मास्क की व्यवस्था भी है।

यह भी पढ़ें - चमोली DM स्वाति ने अधिकारियों की छुट्टी पर लगाई रोक, कहा- लोगों की मदद करना पहला कर्तव्य

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का मनमोहक नजारा देखिये..
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत
Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top