कोटद्वार से लैंसडोन, पौड़ी, श्रीनगर जाने वाले ध्यान दें, रोजाना 8 घंटे बंद रहेगा मार्ग..जानें वजह (Kotdwar Pauri route will remain closed at night)
Connect with us
Image: Kotdwar Pauri route will remain closed at night

कोटद्वार से लैंसडोन, पौड़ी, श्रीनगर जाने वाले ध्यान दें, रोजाना 8 घंटे बंद रहेगा मार्ग..जानें वजह

कोटद्वार से पहाड़ की ओर जाने वाले वाहन रात में 8 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक नहीं जा पाएंगे। सुबह 5 बजे के बाद वाहनों की आवाजाही फिर से शुरू हो जाएगी। पढ़िए पूरी खबर-

उत्तराखंड से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। कोटद्वार से पहाड़ों की ओर जाने वाले वाहनों की आवाजाही में अब रात में रोक लगा दी है। कोटद्वार से पहाड़ की ओर जाने वाले वाहन रात में 8 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक नहीं जा पाएंगे। सुबह 5 बजे के बाद वाहनों की आवाजाही फिर से शुरू हो जाएगी और रात 8 बजे बंद कर दी जाएगी। वाहन चालकों की सुरक्षा दृष्टि से यह निर्णय बेहद जरूरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि अब सर्दियों ने पहाड़ों पर दस्तक दे दी है और रात के समय काफी अधिक ठंड हो जाती है। सर्दी के कारण रात में पाले और धुंध के कारण सड़क दुर्घटनाओं का रिस्क बढ़ जाता है जिसको देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। पौड़ी की एसएसपी रेणुका ने इस संबंध में कोटद्वार पुलिस को निर्देश जारी कर दिए हैं। उन्होंने कहा है कि रोक के दौरान केवल आवश्यक वस्तुओं से जुड़ी सेवाओं को ही इसमें छूट दी गई है। बाकी अन्य सभी वाहनों की आवाजाही पर रात के 8 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक रोक लगा दी गई है। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - आज है नैनीताल का हैप्पी बर्थ-डे..जानिए इस खूबसूरत शहर की 179 साल पुरानी कहानी
कोटद्वार में सिद्धबली के पास में बैरियर लगा दिया गया है। लोगों की सुरक्षा को देखते हुए ही पुलिस द्वारा यह निर्णय लिया गया है। सड़क दुर्घटनाओं की दृष्टि से पहाड़ बेहद संवेदनशील हैं। ऊपर से सर्दियों के आते ही पहाड़ों पर धुंध और कोहरा बढ़ने लगता है जिस कारण हादसों के होने की संभावनाएं और भी अधिक बढ़ जाती है। कोटद्वार के कोतवाल नरेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि सर्दियों में सड़क पर पाला गिरने, कोहरा लगने और नींद की झपकी आने के कारण दुर्घटना का खतरा बना रहता है। इसी को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। कोटद्वार में दिवाली के दिन सुबह 4 एक सड़क हादसा हुआ और उससे पहले भी रात में कुछ दुर्घटनाओं को देखते हुए पुलिस ने 8 बजे से यात्रियों के वाहनों की आवाजाही पर पाबंदी लगा दी है। अब लोग रात में धुमाकोट और सतपुली नहीं जा सकेंगे। आवश्यक सेवाओं जैसे दूध, सब्जी, फल, राशन और अखबार आदि के वाहनों को इसमें छूट दी गई है। वैसे तो प्राइवेट वाहनों की आवाजाही पर रात के 8 से सुबह 5 तक पूरी तरह से पाबंदी रहेगी। मगर तब भी अगर किसी को इमरजेंसी में रात को जाना है तो उसे पुलिस क्षेत्राधिकारी की परमिशन लेनी पड़ेगी और अनुमति लेने के बाद ही वाहन को बैरियर से जाने दिया जाएगा। नियमों का पालन नहीं करने वाले वाहन चालकों के खिलाफ पुलिस सख्त से सख्त कार्यवाही करेगी। रात को वाहनों की आवाजाही को रोकने के लिए कोटद्वार में सिद्धबली मंदिर के पास और दुगड्डा में बैरियर लगा दिए गए हैं और वहां पूरी रात पुलिस तैनात रहेगी।

Loading...

Latest Uttarakhand News Articles

वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा
वीडियो : IPS अधिकारी के रिटायर्मेंट कार्यक्रम में कांस्टेबल को देवता आ गया
वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

पढ़िये... उत्तराखंड की सत्ता से जुड़ी हर खबर, संस्कृति से जुड़ी हर बात और रिवाजों से जुड़े सभी पहलू.. rajyasameeksha.com पर।


Copyright © 2017-2020 राज्य समीक्षा.

To Top